फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटTeam India Head Coach Job: गौतम गंभीर चतुर रणनीतिकार हैं लेकिन...पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने कही खरी बात

Team India Head Coach Job: गौतम गंभीर चतुर रणनीतिकार हैं लेकिन...पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने कही खरी बात

Lalchand Rajput on Gautam Gambhir: पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने गौतम गंभीर को लेकर खरी बात कही है। उन्होंने कहा कि गंभीर चतुर रणनीतिकार हैं और वह भारतीय टीम के लिए अच्छे कोच साबित होंगे।

Team India Head Coach Job: गौतम गंभीर चतुर रणनीतिकार हैं लेकिन...पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने कही खरी बात
Md.akram भाषा,मुंबईTue, 04 Jun 2024 07:50 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत के पूर्व कोच लालचंद राजपूत का मानना है कि गौतम गंभीर भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए सही उम्मीदवार हैं क्योंकि वह एक चतुर रणनीतिकार के साथ ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जिसने दो बार वर्ल्ड कप का खिताब जीता है। गंभीर ने आधिकारिक तौर पर भारतीय टीम के हेड कोच पद के लिए आवेदन किया है या नहीं इस बारे में पुष्ट जानकारी नहीं है लेकिन यह अनुमान लगाया जा रहा है कि वह टी20 वर्ल्ड कप के बाद राहुल द्रविड़ की जगह ले सकते हैं। भारत के हेड कोच के पद के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 27 मई को समाप्त हो गई है।

'गंभीर काम के प्रति रहते हैं समर्पित'

भारतीय टीम ने राजपूत के कोच रहते 2007 में टी20 वर्ल्ड कप जीता था। उन्होंने मंगलवार को 'पीटीआई-भाषा' से कहा, ''गंभीर पूरी तरह से काम के प्रति समर्पित रहते हैं। उन्होंने कड़ी मेहनत से क्रिकेट खेला है और वह खेल को अच्छी तरह से समझते हैं। यह केकेआर (कोलकाता नाइट राइडर्स) के लिए भी देखा गया है।'' राजपूत ने आईपीएल में केकेआर की सफलता का जिक्र करते हुए कहा, ''केकेआर पिछले साल भी यही टीम थी। इस साल टीम में आए बदलाव को आप महसूस कर सकते है। गंभीर एक चतुर रणनीतिज्ञभी हैं।''

'वह एक अच्छे उम्मीदवार हैं लेकिन...'

आगामी मध्य प्रदेश टी20 लीग (एमपीटी20) में जबलपुर लायंस के क्रिकेट निदेशक राजपूत ने कहा कि दो बार के वर्ल्ड कप विजेता भारतीय खिलाड़ी के रूप में गंभीर का अनुभव भी टीम के काम आएगा। उन्होंने कहा, ''गंभीर ने एक खिलाड़ी के रूप में दो वर्ल्ड कप जीते हैं। वह एक अच्छे उम्मीदवार हैं, लेकिन यह सब बीसीसीआई पर निर्भर करता है कि वे किसे चाहते हैं। मेरी समझ से गंभीर भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए सही उम्मीदवार होंगे।'' भारत के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने 2007 वर्ल्ड टी20 जीतने वाली भारतीय टीम और अमेरिका की वर्तमान टीम की तुलना करते हुए कहा कि टीम में अनुभवी खिलाड़ियों का होना फायदेमंद रहता है।

'बिल्कुल नई टीम के साथ नहीं जा सकते'

उन्होंने कहा, ''आपके पास कुछ अनुभव भी होना चाहिए। हम बिल्कुल नई टीम के साथ नहीं जा सकते क्योंकि वर्ल्ड कप में दबाव भी होता है।'' राजपूत ने कहा, ''आपके पास कुछ सीनियर खिलाड़ी होने चाहिए और उसके साथ जूनियर भी क्योंकि वे एक-दूसरे का पूरक होते हैं। अगर आप हमारी 2007 टीम को देखें, तो (वीरेंद्र) सहवाग, गंभीर, इरफान पठान, हरभजन (सिंह), आरपी सिंह और युवराज जैसे अनुभवी खिलाड़ी टीम में थे। इसके साथ ही रोहित शर्मा, रॉबिन उथप्पा और यहां तक कि दिनेश कार्तिक जैसे युवा खिलाड़ी थे। यह एक अच्छा मिश्रण था।'' राजपूत ने कहा कि भारत के लिए अंतिम एकादश का चयन करना मुश्किल होगा, लेकिन उन्होंने विकेटकीपर-बल्लेबाज के रूप में ऋषभ पंत और सलामी बल्लेबाज के रूप में विराट कोहली का समर्थन किया।