फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटभारत ने जिम्बाब्वे को हराकर हासिल की बड़ी उपलब्धि, वनडे क्रिकेट में पहली बार एक ही साल में दो बार 10 विकेट से जीता मैच

भारत ने जिम्बाब्वे को हराकर हासिल की बड़ी उपलब्धि, वनडे क्रिकेट में पहली बार एक ही साल में दो बार 10 विकेट से जीता मैच

भारत ने जिम्बाब्वे को तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में 10 विकेट से हराकर एक बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। टीम ने पहली बार वनडे क्रिकेट में एक ही साल में दो बार 10 विकेट से जीत दर्ज की।

भारत ने जिम्बाब्वे को हराकर हासिल की बड़ी उपलब्धि, वनडे क्रिकेट में पहली बार एक ही साल में दो बार 10 विकेट से जीता मैच
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 18 Aug 2022 11:07 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारत ने शिखर धवन और शुभमन गिल के दमदार अर्द्धशतकों की बदौलत जिम्बाब्वे को पहले वनडे मैच में गुरुवार को 10 विकेट से रौंद दिया। जिम्बाब्वे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 190 रन का लक्ष्य रखा था, जिसे भारतीय टीम ने आसानी के साथ 30.5 ओवर में ही हासिल कर लिया। भारत ने वनडे क्रिकेट में तीसरी बार जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया है।

जिम्बाब्वे को हराने के साथ भारत ने एक साल में लगातार दो बार 10 विकेट से जीत हासिल कर इतिहास रच दिया है। ऐसा पहली बार हुआ है कि एक साल में भारत ने दो बार वनडे क्रिकेट में 10 विकेट से कोई मैच जीता हो। इससे पहले भारत ने पिछले महीने इंग्लैंड को तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में 10 विकेट से हराया था। इंग्लैंड की टीम इस मैच में सिर्फ 110 रन पर ही सिमट गई थी। 

वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत ने जिम्बाब्वे के खिलाफ 2013 से एक भी मैच नहीं हारा है। अब तक खेले गए 13 मैचों में जिम्बाब्वे की ही टीम को हार झेलनी पड़ी है। 

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए जिम्बाब्वे ने ब्रैड इवान्स (32) और रिचर्ड एंगरावा (34) की जुझारू पारियों की बदौलत पहली पारी में 189 रन बनाये थे। जिम्बाब्वे जब बल्लेबाजी करने उतरी तो पिछली सीरीज की अपनी फॉर्म को बरकरार नहीं रख सकी और निरंतर अंतराल पर विकेट गंवाये। दीपक चहर ने जहां सलामी बल्लेबाज इनोसेंट काइया, तादीनाशे मारूमानी और वेस्ले मादेवेरे को पवेलियन लौटाया, वहीं मोहम्मद सिराज ने सीन विलियम्स को आउट किया। बांग्लादेश के खिलाफ तीन मैचों में दो शतक जड़ने वाले सिकंदर रजा 12 रन बनाकर प्रसिद्ध कृष्णा का शिकार हुए। मात्र 66 रन पर पांच विकेट गिरने के बाद कप्तान रेगिस चकाब्वा ने जिम्बाब्वे की लड़खड़ाती हुई पारी को संभालने का प्रयास किया, लेकिन वह भी 51 गेंदों पर 35 रन बनाकर पवेलियन लौट गये।

IND vs ZIM : इंटरनेशनल वापसी पर जीत से खुश हैं केएल राहुल, लेकिन अब रिहैब से नहीं गुजरना चाहते; जानिए क्या

रायन बर्ल (11) और ल्यूक जॉन्ग्वे (13) का विकेट गिरने के बाद जिम्बाब्वे संकट की स्थिति में थी, लेकिन ब्रैड इवान्स और रिचर्ड एंगरावा टीम के लिये संकटमोचक बनकर उभरे। दोनों ने नौंवे विकेट के लिये 70 रन जोड़े। इवान्स ने जहां  29 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के की बदौलत 33 रन बनाये, वहीं एंगरावा ने 42 गेंदों में तीन चौके और एक छक्का लगाते हुए 34 रन की पारी खेली। दोनों बल्लेबाजों के प्रयास ने टीम को 189 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। 

जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले वनडे मैच में मिली दमदार जीत, टीम इंडिया ने बनाया ये रिकॉर्ड 

190 रन के लक्ष्य को हासिल करने उतरी भारत को जीत दिलाने के लिये शुभमन गिल और शिखर धवन ही काफी थे। दोनों सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिये 192 रन की विशाल साझेदारी की और भारत को 10 विकेट से जीत दिलायी। गिल ने 72 गेंदों पर एक छक्के और 10 चौकों की बदौलत नाबाद 82 रन बनाये, जबकि धवन ने 113 गेंदों पर नौ चौकों की मदद से नाबाद 81 रन की पारी खेली। 
 

epaper