फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटतन्मय अग्रवाल की नजरें अब ब्रायन लारा के 501* रन के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने पर? क्या रणजी ट्रॉफी में आज रचा जाएगा इतिहास

तन्मय अग्रवाल की नजरें अब ब्रायन लारा के 501* रन के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने पर? क्या रणजी ट्रॉफी में आज रचा जाएगा इतिहास

तन्मय अग्रवाल से जब पूछा गया कि क्या अब उनकी नजरें ब्रायन लारा के 501 रन के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने पर है, तो उनका जवाब 'ना' था। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता वह और कितनी देर बैटिंग करेंगे।

तन्मय अग्रवाल की नजरें अब ब्रायन लारा के 501* रन के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने पर? क्या रणजी ट्रॉफी में आज रचा जाएगा इतिहास
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 27 Jan 2024 07:08 AM
ऐप पर पढ़ें

हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज तन्मय अग्रवाल ने उस समय पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा जब रणजी ट्रॉफी के मुकाबले के दौरान उन्होंने अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ फर्स्ट क्लास क्रिकेट के इतिहास का सबसे तेज तिहरा शतक जड़ा। 28 वर्षीय खिलाड़ी ने यह उपलब्धि सिर्फ 147 गेंदों में हासिल की और दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर मार्को मरैस के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ा। मार्को के नाम इससे पहले 191 गेंदों पर फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सबसे तेज तिहरा शतक जड़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड था। तन्मय के इस तूफानी तिहरे शतक के दम पर हैदराबाद ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 48 ओवर में 1 विकेट के नुकसान पर 529 रन बोर्ड पर लगा दिए हैं। वह 160 गेंदों पर 33 चौकों और 21 गगनचुंबी छक्कों के साथ 323 रन बनाकर नाबाद हैं।

IND vs ENG- जैक लीच की चोट ने बढ़ाई इंग्लैंड की मुश्किलें, बॉलिंग कोच बोले- यह गंभीर...

तन्मय अग्रवाल से जब मैच के बाद पूछा गया कि क्या अब उनकी नजरें ब्रायन लारा के 501 रन के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने पर है, तो उन्होंने जवाब में 'ना' कहा।

पीटीआई से बात करते हुए तन्मय ने बेफिक्र होकर कहा, "नहीं, मैं ऐसा नहीं सोच रहा हूं क्योंकि मुझे नहीं पता कि हम शनिवार को कितनी देर तक बल्लेबाजी करेंगे। जब तक मैं कल बल्लेबाजी करूंगा, मैं वैसे ही खेलने की कोशिश करूंगा जैसे मैंने आज पारी शुरू की थी। अगर खेलते हुए तो ऐसा होता है तो ठीक है। लेकिन मेरे दिमाग में यह नहीं है कि मुझे यह हासिल करना है या वह हासिल करना है।''

U19 वर्ल्ड कप 2024: नेपाल ने किया बड़ा उलटफेर, वेस्टइंडीज और बांग्लादेश को भी मिली जीत

अपने तिहरे शतक पर वह बोले "मैं अच्छा और आभारी महसूस कर रहा हूं। 150 रन पूरे करने के बाद, मैंने हिट करना शुरू कर दिया और भाग्य मेरे साथ में था। गेंद हमेशा बल्ले के बीच में लगकर बाहर जा रही थी। मैं बस बल्लेबाजी करता रहा और हिट करता रहा।"

जब उनसे पूछा गया कि उन्हें इस वर्ल्ड रिकॉर्ड के बारे में कब पता चला तो वह बोले "दिन का खेल खत्म होने के बाद... टीम के साथियों से लेकर मेरे परिवार तक, हर कोई बहुत खुश है।"

विवाद: दिल्ली ने अपने उपकप्तान आयुष बडोनी को होटल में रहने को बोला, टीम हुई 147 रनों पर ढेर

भारतीय फर्स्ट क्लास क्रिकेट के इतिहास में एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड बीबी निंबालकर के नाम है, जिन्होंने महाराष्ट्र और काठियावाड़ के बीच रणजी ट्रॉफी मैच के दौरान 443 रन बनाए थे। वहीं फर्स्ट क्लास क्रिकेट के इतिहास में एक खिलाड़ी द्वारा एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा के नाम हैं। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने वारविकशायर बनाम डरहम के खिलाफ काउंटी क्रिकेट मैच में नाबाद 501 रनों की पारी खेली थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें