फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटडेविड वॉर्नर के प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने जाने पर भड़के शोएब अख्तर, कहा- बाबर आजम थे असली हकदार

डेविड वॉर्नर के प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने जाने पर भड़के शोएब अख्तर, कहा- बाबर आजम थे असली हकदार

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 का मैन ऑफ द टूर्नामेंट डेविड वॉर्नर को चुना गया। वॉर्नर ने सात मैचों में 48.17 की औसत और 146.70 के स्ट्राइक रेट से कुल 289 रन बनाए। उनसे ज्यादा रन इस टूर्नामेंट में महज एक...

डेविड वॉर्नर के प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने जाने पर भड़के शोएब अख्तर, कहा- बाबर आजम थे असली हकदार
Namita Shuklaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 15 Nov 2021 11:09 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 का मैन ऑफ द टूर्नामेंट डेविड वॉर्नर को चुना गया। वॉर्नर ने सात मैचों में 48.17 की औसत और 146.70 के स्ट्राइक रेट से कुल 289 रन बनाए। उनसे ज्यादा रन इस टूर्नामेंट में महज एक बल्लेबाज के नाम दर्ज हैं और वह हैं पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का मानना है कि वॉर्नर को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने जाने का फैसला बाबर आजम के साथ नाइंसाफी है। बाबर आजम ने छह मैचों में 60.60 की औसत और 126.25 के स्ट्राइक रेट से इस टूर्नामेंट में कुल 303 रन बनाए।

अख्तर ने ट्विटर पर लिखा, 'मेरी नजर थी कि बाबर आजम को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना जाएगा, यह बिल्कुल नाइंसाफी है।' आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 का फाइनल मैच में रविवार (14 नवंबर) को दुबई में खेला गया, जहां ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ आठ विकेट से जीत दर्ज की। वॉर्नर ने फाइनल मैच में 53 रनों की पारी खेली। वॉर्नर ने सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ 49 रनों की पारी खेली थी। वॉर्नर इस टूर्नामेंट से पहले अच्छी फॉर्म में नहीं थे। इतना ही नहीं टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी टीम सनराइजर्स हैदराबाद ने अपनी टीम से ड्रॉप कर दिया था।

 

ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल मैच में टॉस जीता और न्यूजीलैंड को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में चार विकेट पर 172 रन बनाए। कप्तान केन विलियमसन ने 85 रनों की पारी खेली। जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 18.5 ओवर में ही दो विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। मिचेल मार्श ने नॉटआउट 77 रनों की पारी खेली। ऑस्ट्रेलिया को सुपर-12 राउंड में इंग्लैंड के खिलाफ हार झेलनी पड़ी थी। इस टूर्नामेंट से पहले ऑस्ट्रेलिया को खिताब के दावेदारों में गिना भी नहीं जा रहा था, लेकिन आरोन फिंच एंड कंपनी ने साबित कर दिया कि क्यों यह टीम दुनिया की बेस्ट टीम कही जाती है।

epaper