फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटसनराइजर्स ईस्टर्न केप ने लगातार दूसरी बार जीता SA20 का खिताब, फाइनल में डरबन सुपर जायंट्स को बुरी तरह रौंदा

सनराइजर्स ईस्टर्न केप ने लगातार दूसरी बार जीता SA20 का खिताब, फाइनल में डरबन सुपर जायंट्स को बुरी तरह रौंदा

सनराइजर्स ईस्टर्न केप ने साउथ अफ्रीकी लीग SA20 का दूसरा टाइटल जीत लिया है। टीम के फाइनल मुकाबले में डरबन सुपर जायंट्स को 89 रनों से हराया। सनराइजर्स की टीम लीग के पहले सीजन में भी चैंपियन बनी थी।

सनराइजर्स ईस्टर्न केप ने लगातार दूसरी बार जीता SA20 का खिताब, फाइनल में डरबन सुपर जायंट्स को बुरी तरह रौंदा
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSun, 11 Feb 2024 06:12 AM
ऐप पर पढ़ें

एडन मारक्रम की अगुवाई वाली सनराइजर्स ईस्टर्न केप ने साउथ अफ्रीकी लीग SA20 के फाइनल में डरबन सुपर जायंट्स को 89 रनों से हराकर लगातार दूसरी बार इस खिताब पर अपना कब्जा जमाया है। SA20 का यह दूसरा सीजन है और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम दूसरी बार भी ट्रॉफी उठाने में सफल रही है। फाइनल में टीम के नायक कप्तान मारक्रम के साथ ट्रिस्टन स्टब्स, टॉम एबेल, जॉर्डन हरमन और मार्को येनसन रहे। सनराइजर्स की टीम ने इस मैच में पहले बैटिंग करते हुए 3 विकेट के नुकसान पर 204 रन बोर्ड पर लगाए थे, फाइनल मुकाबले के हिसाब से यह बहुत बड़ा स्कोर था। इस स्कोर का पीछा करते हुए डरबन की पूरी टीम 17 ओवर में महज 115 रनों पर ही सिमट गई। पूरे सीजन डरबन के हीरो रहे हेनरिक क्लासेन फाइनल में टीम की नैया पार नहीं लगा पाए, वह गोल्डन डक पर आउट हुए।

उदय सहारन के पिता की भविष्यवाणी, भारत इस वजह से जीतेगा अंडर-19 वर्ल्ड कप 2024, टॉस को लेकर कही अहम बात

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी सनराइजर्स ईस्टर्न केप की शुरुआत अच्छी नहीं रही। 15 के स्कोर पर डेविड मलान के रूप में उनको पहला झटका लगा। हालांकि इसके बाद हरमन (26 गेंदों पर 42 रन) और एबेल (34 गेंदों पर 55 रन) ने दूसरे विकेट के लिए 90 रनों की साझेदारी कर टीम को बड़े स्कोर की राह दिखाई।

हरमन और एबेल के लगातार अंतराल में आउट होने के बाद रन बनाने का जिम्मा कप्तान मारक्रम (26 गेंदों पर 42 रन) और ट्रिस्टन स्टब्स (30 गेंदों पर 56 रन) ने उठाया और टीम को 200 के पार पहुंचाया। डरबन के लिए एकमात्र असरदार गेंदबाज कप्तान केशव महाराज ही रहे जिन्होंने 4 ओवर के कोटे में 33 रन खर्च कर दो विकेट चटकाए।

भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का महंगा फोन घर से हुआ चोरी, 1 लाख 60 हजार रुपये है कीमत

इस विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी डरबन सुपर जाएंट्स की टीम शुरुआत से ही पिछड़ी नजर आई। विस्फोटक बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक समेत जेजे स्मट्स और भानुका राजपक्षे के रूप में तीन विकेट टीम ने पावरप्ले में ही खो दिए थे। टीम की ओर से वायन मुल्डर ने सबसे ज्यादा 38 रन बनाए जबकि ड्वेन प्रीटोरियस ने 28 और जूनियर डाला ने 15 रन का योगदान दिया। हेनरिक क्लासेन फाइनल में गोल्डन डक का शिकार बने।

क्या चेतेश्वर पुजारा भारतीय टीम को डिनर पर बुलाएंगे?, अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर बताई मन की बात

टॉम एबेल को उनकी धुआंधार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया, वहीं पूरे टूर्नामेंट में अपने बल्ले से तबाही मचाने वाले हेनरिक क्लासेन प्लेयर ऑफ द सीरीज बने।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें