DA Image
19 जनवरी, 2021|11:08|IST

अगली स्टोरी

सुनील गावस्कर ने 1981 को लेकर खोला यह राज- एलबीडब्ल्यू के फैसले की वजह से नहीं बल्कि इसलिए किया था वॉकआउट

sunil gavaskar  getty images

सुनील गावस्कर ने 1981 के मेलबर्न टेस्ट के दौरान विवादास्पद वॉकआउट पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा है कि वह अपने खिलाफ एलबीडब्ल्यू के फैसले के कारण नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों की 'दफा हो जाओ की टिप्पणी से आपा खो बैठे थे और अपने साथी बल्लेबाज के साथ मैदान से बाहर चले गए थे।'

AUSvIND: बेटी के पापा बने उमेश यादव, क्यूट पोस्ट शेयर कर फैन्स को दी खुशखबरी
    
यह सीरीज अंपायरों के कुछ असंगत फैसलों के कारण विवादों में रही थी। डेनिस लिली की लेग कटर पर गावस्कर को अंपायर रेक्स वाइटहेड ने एलबीडब्ल्यू आउट दे दिया था। वाइटहेड का यह अंपायर के रूप में केवल तीसरा टेस्ट मैच था। गावस्कर को लगा था कि गेंद ने उनके बल्ले को स्पर्श किया तथा उन्होंने फैसले का विरोध किया और क्रीज पर डटे रहे। 

IND vs AUS Test Series: शोएब अख्तर ने भारतीय गेंदबाजों की तारीफ में कह दी ये बड़ी बात 
    
गावस्कर ने अब 7 क्रिकेट से कहा, 'यह गलतफहमी है कि मैं एलबीडब्ल्यू के फैसले से नाराज था।' उन्होंने कहा, 'हां फैसला निराशाजनक था लेकिन मैंने वॉकआउट केवल इसलिए किया क्योंकि जब मैं पवेलियन लौटते हुए चेतन चौहान के पास से गुजर रहा था तो ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने मुझ पर छींटाकशी की। उन्होंने मुझे कहा दफा हो जाओ और तभी मैं वापस लौटा और मैंने चेतन को अपने साथ चलने को कहा।'

जानिए किन दोस्तों के साथ विराट-अनुष्का ने मनाया New Year, शेयर की फोटो
    
गावस्कर ने अपना बल्ला पैड पर भी मारा था ताकि अंपायर उनकी नाराजगी को समझ सकें। गावस्कर जब बेमन से क्रीज छोड़कर जा रहे थे तो रिपोर्टों के अनुसार लिली ने कोई टिप्पणी की थी और इस भारतीय बल्लेबाज ने वापस लौटकर साथी सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान को भी वापस चलने का निर्देश दे दिया। चौहान ने उनकी बात मान ली लेकिन सीमा रेखा पर टीम मैनेजर शाहिद दुर्रानी और सहायक मैनेजर बापू नाडकर्णी बल्लेबाजों से मिले और उनके कहने पर चौहान वापस क्रीज पर लौटे।

अख्तर ने की इंडिया की तारीफ 'चयन के लिए धर्म नहीं, टैलेंट है जरूरी'

 गावस्कर ने कहा, 'गेंद ने मेरे बल्ले का किनारा लिया था। आप फारवर्ड शार्ट लेग के फील्डर को देख सकते थे। उसने कोई अपील नहीं की थी। वह अपनी जगह से हिला भी नहीं था।' उन्होंने कहा, 'डेनिस (लिली) ने मुझसे कहा कि मैंने तुम्हारे पैड पर गेंद मारी है और मैं यह कहने की कोशिश कर रहा था, नहीं मैंने गेंद को हिट किया था।' इससे पहले के इंटरव्यू में गावस्कर ने कहा था कि उन्हें इस तरह के विवादास्पद तरीके से मैदान छोड़ने के अपने फैसले पर खेद है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sunil Gavaskar in 1981contoversy not because of LBW decision but because of the australian palyer miss behaviour