फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटटीम इंडिया पर लगा इस साजिश का इल्जाम तो गावस्कर ने दिया मुंहतोड़ जवाब, बोले- एशिया कप की जीत जोरदार तमाचा

टीम इंडिया पर लगा इस साजिश का इल्जाम तो गावस्कर ने दिया मुंहतोड़ जवाब, बोले- एशिया कप की जीत जोरदार तमाचा

पूर्व कप्तान और महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने उन लोगों को आड़े हाथ लिया है, जिनका मानना था कि भारत जानबूझकर श्रीलंका के खिलाफ अपना सुपर-4 मैच हारना चाहते था ताकि पाकिस्तान टीम फाइनल में ना पहुंच जाए।

टीम इंडिया पर लगा इस साजिश का इल्जाम तो गावस्कर ने दिया मुंहतोड़ जवाब, बोले- एशिया कप की जीत जोरदार तमाचा
sunil gavaskar
Md.akram लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 18 Sep 2023 03:02 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत ने धमाकेदार अंदाज में एशिया कप 2023 का खिताब अपने नाम किया। रोहित ब्रिगेड ने फाइनल में श्रीलंका को 10 विकेट से रौंदा। मोहम्मद सिराज (7 ओवर में 21 रन खर्च कर 6 विकेट) की धारदार गेंदबाजी की बदौलत श्रीलंकाई टीम महज 50 रन पर ढेर हो गई। भारत ने 6.1 ओवर में आसानी से लक्ष्य  हासिल कर किया। भारत ने 263 गेंद शेष रहते मैच जीता। यह भारत की किसी भी वनडे फाइनल में गेंद शेष रहने के मामले में सबसे बड़ी जीत है। भारत के आठवीं बार एशिया कप जीतने के बाद महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने उन लोगों को आड़े हाथ लिया है, जिनका मानना था कि भारत जानबूझकर श्रीलंका के खिलाफ अपना सुपर-4 मैच हारना चाहता था।

बता दें कि भारतीय टीम सुपर-4 राउंड में श्रीलंका के विरुद्ध 49.1 ओवर में 213 रन पर सिमट गई थी। भारत ने इस मैच में 41 रन से जीत हासिल की थी। लेकिन पाकिस्तान के कई क्रिकेट फैंस ने टीम इंडिया पर इल्जाम लगाया था कि वो साजिश के तहत श्रीलंका के हाथों मैच गंवाने की फिराक में थी ताकि पाकिसतान फाइनल में एंट्री ना कर सके। ऐसे में अब पूर्व भारतीय कप्तान गावस्कर ने इस तरह की कॉन्सपिरेसी थ्योरी को हास्यास्पद करार दिया है। उन्होंने कहा कि जो लोग ऐसे आरोप लगाते हैं वो मूर्ख और बुद्धिहीन हैं। एशिया कप की जीत उन लोगों के मुंह पर जोरदार तमाचा है।

गावस्कर ने मिड -डे के लिए अपने कॉलम में कहा, ''यह पश्चिमी सीमा के पार उन सभी लोगों के चेहरे पर जोरदार तमाचा है जो श्रीलंका के खिलाफ 213 रन पर आउट होने के बाद चिल्ला-चिल्ला कर कह रहे थे कि भरत जानबूझकर मैच हारना चाह रहा है ताकि पाकिस्तान को फाइनल में पहुंचने से रोक दिया जाए। क्या इन बुद्धिहीन लोगों ने इस संभावना के बारे में भी नहीं सोचा कि जब भरत, श्रीलंका से गेम हार जाएगा और फिर पाकिस्तान की टीम श्रीलंका को मात दे देगी, उसके बाद इंडिया वर्सेस बांग्लादेश गेम बारिश की भेंट चढ़ गया तो भरत फाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं करेगा। ऐसे में भरत जानबूझकर श्रीलंका से क्यों हारेगा? मूर्ख।''

गावस्कर ने आगे कहा, ''जब श्रीलंका से शिकस्त मिलने के बाद पाकिस्तान टूर्नामेंट से बाहर हो गया तो हम हार के लिए भरत को दोषी ठहराने वाली कुछ और कॉन्सपिरेसी थ्योरी की उम्मीद कर रहे थे लेकिन हैरानी बात है कि वे सब कुछ भूल गए और टूर्नामेंट से बाहर होने के लिए अपने कप्तान बाबर आजम को लताड़ने पर फोकस किया। गावस्कर ने कहा, ''इसी तरह की कॉन्सपिरेसी थ्योरी तब सामने आई थीं जब भारत 2019 वर्ल्ड कप के ग्रुप गेम में इंग्लैंड से हार गया था। इल्जाम लगा कि एमएस धोनी समेत सभी लोगों ने जानबूझकर धीमी बल्लेबाजी की। जो लोग धोनी को जानते हैं वे इस तथ्य की पुष्टि करेंगे कि वह गेम को डीप ले जाना पसंद करते हैं और फिर धमाल मचाते हैं। इंग्लैंड ने शानदार गेंदबाजी की जिसकी वजह से वह तब ऐसा नहीं कर सके लेकिन मूर्खों ने सोचा कि यह जानबूझकर उन्हें सेमीफाइनल से बाहर करने के लिए किया गया था।''