फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटवर्ल्ड कप हार से निराश सुनील गावस्कर बोले- अगले कुछ हफ्तों में सिलेक्टर्स को बड़े फैसले लेने होंगे

वर्ल्ड कप हार से निराश सुनील गावस्कर बोले- अगले कुछ हफ्तों में सिलेक्टर्स को बड़े फैसले लेने होंगे

वर्ल्ड कप 2023 हार से निराश पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने कहा है कि अगले कुछ हफ्तों में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों और चयन समिति को बड़े फैसले लेने होंगे। सभी को निराशा मिली थी।

वर्ल्ड कप हार से निराश सुनील गावस्कर बोले- अगले कुछ हफ्तों में सिलेक्टर्स को बड़े फैसले लेने होंगे
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 30 Nov 2023 02:03 PM
ऐप पर पढ़ें

वर्ल्ड कप 2023 में दमदार प्रदर्शन करने के बावजूद भारतीय टीम ट्रॉफी जीतने से दूर रह गई। फाइनल में भारत को ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा। भारत ने सेमीफाइनल तक लगातार 10 मैच जीते थे, लेकिन फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने 6 विकेट से जीत हासिल की और छठी ट्रॉफी अपने नाम की। भले ही टीम ने अच्छा खेला, लेकिन पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर का मानना है कि भारत को उन गलतियों से सीखना होगा, जो 19 नवंबर को वर्ल्ड कप फाइनल में की थीं। उन्होंने ये भी कहा है कि ट्रॉफी ना जीत पाना निराशा भरा है। 

सुनील गावस्कर ने मिड-डे को लिखे अपने कॉलम में कहा, "अगर भारत आगे बढ़ना चाहता है और ट्रॉफी जीतना चाहता है तो उसे फाइनल में की गई कुछ गलतियों को स्वीकार करना होगा। एकजुटता दिखाने की कोशिश करना एक बात है, लेकिन अगर गलतियां स्वीकार नहीं की जाएंगी तो प्रगति धीमी हो जाएगी। अगले कुछ हफ्तों में अधिकारियों और चयन समिति को बड़े फैसले लेने होंगे। 2007 के बाद भारत का टी20 विश्व कप ना जीत पाना एक बड़ी निराशा है, क्योंकि खिलाड़ियों और युवाओं को आईपीएल में खेलने का फायदा मिल रहा है।" 

गुजरात टाइटन्स का कप्तान बनते ही क्या शुभमन गिल ने साधा हार्दिक पांड्या पर निशाना? वीडियो हुआ वायरल

भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप 2011 में जीता था, चैंपियंस ट्रॉफी 2013 में जीती थी और टी20 वर्ल्ड कप 2007 में जीता था। इसके बाद से भारत की आईसीसी ट्रॉफी की झोली खाली है। ऐसे में टीम मैनेजमेंट और अधिकारियों को ये सोचना है कि आखिर कमी कहां रह रही है। गावस्कर ने इस बारे में लिखा, "इसमें कोई शक नहीं कि भारत का विश्व कप नहीं जीतना निराशाजनक था, लेकिन अब यह खत्म हो गया है और खेल आगे बढ़ेगा। पिछले चार विश्व कप में भारतीय टीम एक जीत के साथ दो बार फाइनल में पहुंची और बाकी दो बार सेमीफाइनल में पहुंची। जब आप इसकी तुलना अन्य टीमों से करते हैं तो यह एक शानदार प्रदर्शन है और केवल ऑस्ट्रेलिया का ही प्रदर्शन दो ट्रॉफी जीतकर बेहतर रहा है।" 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें