फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटWorld Cup 2023 : श्रीलंका क्रिकेट में मची उथल-पुथल, विश्व कप में खराब प्रदर्शन के बाद बोर्ड सचिव ने इस्तीफा दिया

World Cup 2023 : श्रीलंका क्रिकेट में मची उथल-पुथल, विश्व कप में खराब प्रदर्शन के बाद बोर्ड सचिव ने इस्तीफा दिया

शम्मी सिल्वा के नेतृत्व वाले एसएलसी प्रशासन ने वानखेड़े में हुई हार पर टीम प्रबंधन से जांच रिपोर्ट मांगी है। विश्व कप 2023 में भारत के खिलाफ श्रीलंका की टीम महज 55 रन पर आउट हो गई।

World Cup 2023 : श्रीलंका क्रिकेट में मची उथल-पुथल, विश्व कप में खराब प्रदर्शन के बाद बोर्ड सचिव ने इस्तीफा दिया
Himanshu Singhएजेंसी,कोलंबोSat, 04 Nov 2023 05:04 PM
ऐप पर पढ़ें

श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) के सचिव मोहन डी सिल्वा ने भारत में वनडे विश्व कप में अपनी टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद इस्तीफा दे दिया है। श्रीलंका को गुरुवार को मुंबई में भारत ने 302 रन के बड़े अंतर से हराया था। जिसके बाद टीम सेमीफाइनल की दौड़ से लगभग बाहर हो गई है।

भारत के खिलाफ श्रीलंका की टीम महज 55 रन पर आउट हो गई। इसके बाद देश के खेल मंत्री रोशन रणसिंघे ने एसएलसी प्रशासन के सामूहिक इस्तीफे की मांग की थी। रणसिंघे ने एक बयान में इस हार के लिए चयन समिति और एसएलसी प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया। डी सिल्वा का इस्तीफा खेल मंत्री के आह्वान के बाद आया।

PAK vs NZ : विश्व कप में हारिस राउफ और शाहीन अफरीदी के बीच लगी ज्यादा रन लुटाने की रेस, रिकॉर्ड जानकर

शम्मी सिल्वा के नेतृत्व वाले एसएलसी प्रशासन ने वानखेड़े में हुई हार पर टीम प्रबंधन से जांच रिपोर्ट मांगी है। शम्मी सिल्वा को एससीएल का निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया था। यह एसएलसी में उनका लगातार तीसरा कार्यकाल है। उनका वर्तमान कार्यकाल 2025 में समाप्त होगा। श्रीलंका को अपना अगला मैच छह नवंबर को दिल्ली में बांग्लादेश के खिलाफ खेलना है। टीम को अब तक सात मैचों में केवल दो जीत मिली हैं।

बांग्लादेश और श्रीलंका की क्रिकेट टीम को राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण के उच्च स्तर पर पहुंच जाने के कारण विश्व कप मुकाबले से पहले अपना अभ्यास सत्र रद्द करना पड़ा। बांग्लादेश की टीम सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी है। वह कोलकाता में पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद बुधवार को पहुंची थी। उसे शुक्रवार की शाम को अपने पहले अभ्यास सत्र में भाग लेना था लेकिन अत्यधिक प्रदूषण होने के कारण टीम प्रबंधन को अपना फैसला बदलना पड़ा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें