DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैन के बाद इस काम को पूरा करना चाहते हैं श्रीसंत, बताई अपनी WISH

एस श्रीसंत ने उम्मीद जताई है कि एक दिन उन्हें फिर से भारतीय टीम से खेलने का मौका मिलेगा। श्रीसंत पर आईपीएल-2013 में स्पॉट फिक्सिंग के मामले में आजावीन प्रतिबंध लगाया गया था।

sreesanth has reacted after his life ban was reduced to 7 years pti

तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S Sreesanth) ने आजीवन प्रतिबंध घटाकर सात साल किए जाने के बाद फिर से केरल की तरफ से रणजी ट्राफी में खेलने की इच्छा जाहिर की है। इसके साथ ही उम्मीद जताई है कि एक दिन उन्हें फिर से भारतीय टीम से खेलने का मौका मिलेगा। बीसीसीआई लोकपाल डीके जैन ने श्रीसंत पर लगा प्रतिबंध कम करके सात साल कर दिया है, जो 2020 में समाप्त हो जाएगा। श्रीसंत पर आईपीएल-2013 में स्पॉट फिक्सिंग के मामले में आजावीन प्रतिबंध लगाया गया था। जैन ने मंगलवार को फैसला किया कि श्रीसंत का प्रतिबंध 12 सिंतबर 2020 तक रहेगा। 

प्रतिबंध हटने के बाद श्रीसंथ ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा, “जो मैंने आज सुना उस बात से मैं काफी खुश हूं। मैं अपने सभी शुभचिंतकों का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने मेरे लिए दुआएं की। उनकी दुआ कबूल हो गई है। मैं अब 36 साल का हूं और अगले साल 37 साल का हो जाऊंगा। मेरे अभी टेस्ट में 87 विकेट हैं और मेरा लक्ष्य है कि मैं अपने करियर का अंत 100 टेस्ट विकेटों के साथ करूं। मुझे 100 विकेट पूरे करने के लिए केवल 13 विकेट की दरकार है। मैं आश्वस्त हूं कि मैं भारत की टेस्ट टीम में वापसी कर सकता हूं। मैं हमेशा से विराट कोहली की कप्तानी में खेलना चाहता था।”

ऋषभ पंत के बाद हार्दिक पांड्या बने 'बेबीसिटर', VIDEO वायरल

बता दें कि श्रीसंत केरल के ऐसे दूसरे खिलाड़ी हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने भारत के लिए 27 टेस्ट मैचों में 87 विकेट लिए हैं। वहीं 53 वनडे मैचों में उनके नाम 75 विकेट हैं और 10 टी-20 मैचों में सात विकेट ले चुके हैं। श्रीसंत भारत की उस टीम का हिस्सा थे, जिसने 2007 में टी-20 और 2011 में वनडे विश्व कप जीता था।

उन्होंने कहा, ''मैं इस फैसले से बहुत खुश हूं। मैं केरल रणजी टीम में वापसी करके टीम की जीत में योगदान देना पसंद करूंगा। मैं अगले महीने से अभ्यास शुरू कर दूंगा। केरल के युवा खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और यह एक प्रेरणा है।'' 

गौरतलब है कि श्रीसंत पर आईपीएल 2013 में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने के दौरान मैच फिक्सिंग में शामिल होने जैसे गंभीर आरोप लगे थे, जिसके बाद बीसीसीआई की अनुशासन समिति ने श्रीसंत और राजस्थान के दो अन्य खिलाड़ी अजित चंदेला तथा अंकित चव्हाण पर आजीवन प्रतिबंध लगाया था। श्रीसंत ने हालांकि बीसीसीआई के इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की थी, जिसपर सुनवाई करते हुए न्यायाधीश अशोक भूषण और केएम जोसफ की पीठ ने इस वर्ष 15 मार्च को बीसीसीआई की अनुशासन समिति के फैसले को पलट दिया था। 

बीसीसीआई ने हालांकि फरवरी में अपने फैसले को जायज ठहराते हुए शीर्ष अदालत में कहा था कि श्रीसंत पर लगाया गया आजीवन प्रतिबंध कानून के तहत बिलकुल सही है, क्योंकि उन्होंने मैच फिक्सिंग में अहम भूमिका अदा की थी और मैच को प्रभावित करने की कोशिश की थी।  

Team India Support Staff Selection: इन दिग्गजों का हुआ इंटरव्यू, राठौड़-आमरे दौड़ में आगे!

न्यायाधीश भूषण और जोसफ की पीठ ने अप्रैल में जैन से श्रीसंत पर लगाए गए आजीवन प्रतिबंध के फैसले पर तीन महीने के भीतर दोबारा विचार करने के लिए कहा था। जैन ने श्रीसंत पर से बैन हटाते हुए अपने आदेश में स्पष्ट किया कि उनकी उम्र 30 वर्ष से अधिक है और उन्होंने तेज गेंदबाज के रुप में अपने करियर का महत्वपूर्ण समय प्रतिबंध में गुजारा है।

श्रीसंत ने प्रतिबंध के दौरान काउंटी और कुछ अन्य टीमों से खेलने की अनुमति मांगी थी, जो बीसीसीआई से उन्हें नहीं मिली थी। इस दौरान श्रीसंत ने कुछ रिेएल्टी शो में हिस्सा लिया था और दक्षिण भारत की फिल्मों में अभिनय किया था। उन्होंने तिरुवनंतपुरम से 2016 में भाजपा के टिकट पर चुनाव भी लड़ा था, लेकिन हार गए थे। उनके पास अब अगले साल क्रिकेट के मैदान में वापसी करने का मौका रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sreesanth wants to finish his career with 100 Test wickets life ban gets reduced to 7 years