फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटहमें नेपाल के सामने ऐसा करना चाहिए था...हार छूकर लौटा साउथ अफ्रीका तो एडेन मार्करम को हुआ गलती का एहसास

हमें नेपाल के सामने ऐसा करना चाहिए था...हार छूकर लौटा साउथ अफ्रीका तो एडेन मार्करम को हुआ गलती का एहसास

Aiden Markram on SA vs NEP T20 World Cup 2024: साउथ अफ्रीका ने टी20 वर्ल्ड कप 2024 में नेपाल को एक रन से मात दी। नेपाल के सामने 116 रन का लक्ष्य था। एडेन मार्कराम ने एक गलती का खुलासा किया है।

हमें नेपाल के सामने ऐसा करना चाहिए था...हार छूकर लौटा साउथ अफ्रीका तो एडेन मार्करम को हुआ गलती का एहसास
Md.akram लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 15 Jun 2024 12:23 PM
ऐप पर पढ़ें

 साउथ अफ्रीका की टीम टी20 वर्ल्ड कप 2024 में बड़े उलटफेर का शिकार होने से बाल-बाल बच गई। साउथ अफ्रीका ने शनिवार को नेपाल के खिलाफ महज एक रन से जीत हासिल की। नेपाल ने टॉस जीतकर बॉलिंग चुनी और साउथ अफ्रीका को 115/7  पर रोक दिया। साउथ अफ्रीका के लिए सबसे ज्यादा रन रीजा हेंड्रिक्स (43) ने बनाए। ट्रिस्टन स्टब्स के बल्ले से 27 रन निकले। जवाब में नेपाल की टीम  सात विकेट पर 114 रन ही जुटा सकी। स्पिनर तबरेस शम्सी ने नेपाल के सामने चार ओवर के स्पेल में 19 रन देकर चार शिकार किए। किंग्सटाउन में नेपाल के खिलाफ करीबी जीत के बाद साउथ अफ्रीका के कप्तान एडेन मार्कम को एक गलती का एहसास हुआ। उन्होंने कहा कि एक स्पिनर हमें और खिलाड़ी की जरूरत थी।

मार्करम ने मैच के बाद कहा, ''जीत के लिए बहुत शुक्रगुजार हूं। मुझे नहीं लगता कि आज हम अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के करीब थे। हमें मैच से बहुत कुछ सीखने को मिला। हमारे पास वास्तव में एक अच्छा पेस अटैक है और उसे सपोर्ट करना चाहते थे। पीछे मुड़कर देखने पर लगता है कि हमें एक और स्पिनर खिलाना चाहिए था, हमें नहीं लगा कि यह विकेट इतना स्पिन करेगा। नेपाल ने वाकई अच्छी बॉलिंग की और हमारे लिए मुश्किलें खड़ी कर दीं। उन्होंने हमें काफी दबाव में डाला और यह उनकी क्वालिटी को दर्शाता है। यहां परिस्थितियां बहुत अलग हैं। एडेप्ट करना महत्वपूर्ण है और आगे चलकर स्ट्रक्चर बदल सकता है। परिस्थितियों का आकलन करना और एडेप्ट करना में सक्षम होना, क्रिकेट की सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक है।''

नेपाल के खिलाड़ी निराश थे क्योंकि उन्होंने आईसीसी के पूर्णकालिक सदस्य के खिलाफ 12 प्रयासों में पहली जीत दर्ज करने का सुनहरा अवसर गंवा दिया। नेपाल को एक समय 24 गेंद पर 22 रन की जरूरत थी। उसे अंतिम तीन ओवर में जीत के लिए 18 रन चाहिए थे लेकिन उसने छह गेंद और एक रन के अंदर तीन विकेट गंवा दिए। इनमें से दो विकेट स्पिनर तबरेज शम्सी (19 रन देकर चार विकेट) ने लिए। नेपाल को अंतिम ओवर में आठ रन चाहिए थे। ओटनील बार्टमैन के इस ओवर में गुलशन पहली दो गेंद पर रन नहीं बना पाए। इसके बाद उन्होंने चौका लगाया। जब नेपाल को तीन गेंद पर चार रन चाहिए थे तब गुलशन ने सोमपाल कामी के साथ दौड़ कर दो रन लिए। पांचवीं गेंद पर कोई रन नहीं बन पाया और अगली गेंद पर गुलशन रन आउट हो गए।