फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटटीम चयन में दखलअंदाजी के आरोप पर सौरव गांगुली ने दिया बयान, कहा- BCCI अध्यक्ष को जो काम करना चाहिए, वह करता हूं

टीम चयन में दखलअंदाजी के आरोप पर सौरव गांगुली ने दिया बयान, कहा- BCCI अध्यक्ष को जो काम करना चाहिए, वह करता हूं

सौरव गांगुली ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष के तौर पर चुनौतीपूर्ण 26 महीनों के अंदर कई तरह की आलोचनाओं का सामना किया, जिसमें उन्हें कोविड-19 के कारण पैदा हुई परेशानियों से तो रूबरू...

टीम चयन में दखलअंदाजी के आरोप पर सौरव गांगुली ने दिया बयान, कहा- BCCI अध्यक्ष को जो काम करना चाहिए, वह करता हूं
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 04 Feb 2022 05:22 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

सौरव गांगुली ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष के तौर पर चुनौतीपूर्ण 26 महीनों के अंदर कई तरह की आलोचनाओं का सामना किया, जिसमें उन्हें कोविड-19 के कारण पैदा हुई परेशानियों से तो रूबरू होना ही पड़ा, लेकिन उन पर चयनकर्ताओं को प्रभावित करने और अपने कार्यकाल में महिला क्रिकेट के लिए ज्यादा कुछ नहीं करने के आरोप भी लगे।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने चयन बैठकों में खुद को शामिल करने और चयन प्रक्रिया को प्रभावित करने के आरोपों को ही सिर्फ खारिज नहीं किया, बल्कि अपने आलोचकों को यह भी याद दिलाया कि बीसीसीआई अध्यक्ष बनने से पहले मशहूर क्रिकेटर थे और 424 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके थे जिसमें 113 टेस्ट शामिल थे। उन्होंने कहा कि चयन प्रक्रिया को प्रभावित करने की अफवाहें बेबुनियाद हैं। पूर्व चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद, तत्कालीन कप्तान विराट कोहली, तत्कालीन उप-कप्तान रोहित शर्मा और अन्य पदाधिकारियों के साथ बैठक में बैठे गांगुली की एक तस्वीर वायरल हो रही थी, जिससे अटकलें लगाई जा रही थीं कि गांगुली अतीत में चयन बैठकों में शामिल हुए थे।

गांगुली ने पीटीआई से बातचीत में कहा, ''मुझे नहीं लगता कि मुझे किसी को इस पर जवाब देने की जरूरत है और इन आधारहीन आरोपों में से किसी को अहम बनाने की जरूरत है। मैं बीसीसीआई अध्यक्ष हूं और बीसीसीआई अध्यक्ष को जो काम करना चाहिए, वह करता हूं। और आपको यह भी बता दूं, मैंने सोशल मीडिया पर एक फोटो देखी जिसमें मुझे चयन समिति की बैठक में बैठे हुए दिखाया जा रहा था।''

 

 

 

बीसीसीआई ने 2019 में एक ट्वीट में बांग्लादेश के खिलाफ भारत की घरेलू सीरीज के लिए चयन समिति की बैठक की तस्वीर को साझा किया था, जिसमें बोर्ड अध्यक्ष भी कैमरे के लिए पोज दे रहे थे।

 

 

उन्होंने आगे कहा, ''मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह फोटो (जिसमें गांगुली, जय शाह, कप्तान विराट कोहली और संयुक्त सचिव जयेश जॉर्ज बैठे हैं) चयन समिति की बैठक की नहीं थी। जयेश जॉर्ज चयन समिति का हिस्सा नहीं हैं। मैं भारत के लिये 424 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुका हूं। कभी कभार लोगों को यह दिलाने का विचार बुरा नहीं है। (हंसते हुए)''

 

 

बीसीसीआई में पिछले 26 महीनों में जय शाह के साथ रिश्ते पर सौरव गांगुली ने अपनी राय रखी है। गांगुली ने कहा, ''जय के साथ मेरा शानदार रिश्ता है। वह अच्छा मित्र है और विश्वासपात्र सहयोगी है। मैं, जय, अरूण (धूमल) और जयेश (जॉर्ज) हम इन दो वर्षों में विशेषकर कोविड-19 के मुश्किल दौर में बोर्ड को आगे ले जाने में मिलकर काम कर रहे हैं। यह सुनिश्चित करने के लिये क्रिकेट खेला जाये। मैं कहूंगा कि ये दो साल शानदार रहे। हमने बतौर टीम ऐसा किया है।''

epaper