फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटIND vs ENG: अंपायर्स कॉल भारत के लिए बनी काल, टीम इंडिया का टेस्ट क्रिकेट में पहली बार हुआ ये हाल

IND vs ENG: अंपायर्स कॉल भारत के लिए बनी काल, टीम इंडिया का टेस्ट क्रिकेट में पहली बार हुआ ये हाल

भारतीय पारी में DRS का इस्तेमाल कर अंपायर्स कॉल का शिकार बनने वाले पहले खिलाड़ी शुभमन गिल  (38) थे। गिल को शोएब बशीर ने LBW आउट किया। इसके बाद रजत पाटीदार, आर अश्विन और आकाश दीप इसका शिकार बने।

IND vs ENG: अंपायर्स कॉल भारत के लिए बनी काल, टीम इंडिया का टेस्ट क्रिकेट में पहली बार हुआ ये हाल
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSun, 25 Feb 2024 12:15 PM
ऐप पर पढ़ें

रांची में जारी इंडिया वर्सेस इंग्लैंड चौथे टेस्ट में अंपायर्स कॉल भारतीय खिलाड़ियों के लिए काल बनी। इंग्लैंड के 353 रनों के सामने चार भारतीय खिलाड़ी इसका शिकार बने। टेस्ट क्रिकेट भारत के साथ ऐसा पहली बार हुआ है जब एक पारी में 4 खिलाड़ी अंपायर्स कॉल का शिकार बने हो। भारत के खिलाफ गए इन फैसलों के बावजूद टीम इंडिया 307 रनों तक पहुंचने में कामयाब रही। इंग्लैंड के पास पहली पारी के बाद 46 रनों की बढ़त है। टीम इंडिया को इस सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में ध्रुव जुरेल और यशस्वी जायसवाल का अहम रोल रहा। जुरेल ने 90 तो यशस्वी ने 73 रनों की पारी खेली।

ध्रुव जुरेल खतरनाक गेंद पर हुए 90 रन बनाकर आउट, आकाश चोपड़ा बोले- शतक नहीं, पर शतक से कम भी नहीं ये पारी

भारतीय पारी में DRS का इस्तेमाल कर अंपायर्स कॉल का शिकार बनने वाले पहले खिलाड़ी शुभमन गिल  (38) थे। गिल को शोएब बशीर ने LBW आउट किया। इसके बाद रजत पाटीदार (17) और आकाश दीप (9) को भी इस इंग्लिश स्पिनर ने अपने जाल में ऐसी ही फंसाया।

वहीं अंपायर्स कॉल के चौथे शिकार बनने वाले भारतीय खिलाड़ी आर अश्विन थे, उन्हें टॉम हार्टली ने 1 के निजी स्कोर पर आउट किया।

ध्रुव जुरेल ने सेल्यूट मार मनाया अपने पहले टेस्ट अर्धशतक का जश्न, जानें उनके इस सेलिब्रेशन का कारण

यह टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में बैटिंग करते हुए भारत के खिलाफ गए अंपायर्स कॉल के सबसे ज्यादा फैसले थे। इससे पहले बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में 2019 में तीन भारतीय बल्लेबाज अंपायर्स कॉल का शिकार बने थे।

बात मुकाबले की करें तो, इंग्लैंड के 353 रनों के आगे भारत के 307 रनों के स्कोर ने मुकाबले को रोमांचक बना दिया है। तीसरे दिन का पहला सेशन भारत के नाम रहा है। इस सेशन में टीम इंडिया ने 3 विकेट खोकर 88 रन बनाए। ध्रुव जुरेल अकेले ही क्रीज पर डटे रहे और उन्होंने 90 रनों की शानदार पारी खेली। उनकी इस पारी का अंत टॉम हार्टली ने उन्हें क्लीन बोल्ड करके किया। शोएब बशीर इंग्लैंड के सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 5 विकेट चटकाए, वहीं हार्टली को 3 तो एंडरसन को 2 सफलताएं मिली। पहली पारी के बाद इंग्लैंड 46 रन आगे हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें