Shubman Gill is happy for selection in Indian Test Team says International Cricket is more challenging than Domestic Cricket - टेस्ट टीम में सिलेक्शन से खुश हैं शुभमन गिल, कहा- इंटरनेशनल क्रिकेट चैलेंजिंग है DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टेस्ट टीम में सिलेक्शन से खुश हैं शुभमन गिल, कहा- इंटरनेशनल क्रिकेट चैलेंजिंग है

शुभमन गिल ने दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए टीम में शामिल होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि सीनियर खिलाड़ियों के साथ खेलना एक अलग अनुभव है और आईपीएल का अनुभव उनके काम आएगा।

shubman gill jpg

भारत के युवा बल्लेबाज शुभमन गिल ने दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए टीम में शामिल होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि सीनियर खिलाड़ियों के साथ खेलना एक अलग अनुभव है और आईपीएल का अनुभव उनके काम आएगा। हाल ही में संपन्न हुई दलीप ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन करने वाले 20 वर्षीय शुभमन गिल आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से खेलते हैं। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए गुरुवार को घोषित भारतीय टेस्ट टीम में शामिल किया गया था। उन्हें अनुभवी ओपनर लोकेश राहुल की जगह मिली है।

'डोमेस्टिक और इंटरनेशनल क्रिकेट में अंतर है'
शुभमन ने क्रिकइंफो को दिए साक्षात्कार में कहा, 'मुझे लगता है कि मुझे अपने खेल नहीं बल्कि अपने नजरिए में परिवर्तन लाना होगा। अंडर-19 वर्ग में आप अपने तरह के खिलाड़ियों के साथ खेलते हैं लेकिन सीनियर टीम में काफी अनुभवी खिलाड़ियों के बीच खेलना पड़ता है। मैं इस स्तर पर अंडर-19 की मानसिकता के साथ नहीं खेल सकता। 125 की स्पीड से आती गेंदों को खेलना और 140 की रफ्तार से की गई गेंद को खेलने में काफी फर्क है। यहां आईपीएल का अनुभव मेरे काम आएगा। मैं शांत रहता हूं और यह चीज मैंने अपने पिता से सिखी है। वह जब नेट्स में बल्लेबाजी करते थे उस समय काफी संयम रखते थे। मैंने अडर-14 और अंडर-16 टीमों में काफी दिन का क्रिकेट खेला है और मैं इसमें जल्द ही ढल जाता हूं।'

Read Also: लांस क्लूजनर बोले- ऋषभ पंत में है अपार प्रतिभा, वह दूसरों की गलतियों से सीखें

युवराज सिंह ने शुभमन गिल को दी थी ये सलाह   
शुभमन ने कहा, 'मेरी हमेशा से ऐसी मानसिकता रही है कि अगर मैं 100 के स्कोर पर खेल रहा हूं तो मैं अपनी पारी को आगे बढ़ाने की कोशिश करता हूं। खराब शॉट खेलने से बचता हूं। जब मैं पंजाब की तरफ से खेलता था उस समय मुझे युवराज सिंह और गुरकीरत सिंह के साथ समय बिताने का मौका मिला और उन्होंने मुझे काफी कुछ सिखाया। युवराज के करियर में काफी उतार-चढ़ाव आए और उन्हें काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ा। लेकिन उन्होंने हमेशा मेरा समर्थन किया और उनका मार्गदर्शन हमेशा मेरे काम आता रहा हैं। युवराज ने हमेशा ही मुझे अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा। वह कभी नहीं चाहते थे कि मैं अपने शुरुआती दौर में किसी प्लेयर मैनेजमेंट कंपनी के साथ करार करुं और उन्होंने कहा कि सिर्फ अपने खेल पर ध्यान दो इसके बारे में मत सोचो।'

शुरुआती दौर में शुभमन के पिता ही उनके कोच थे
युवा बल्लेबाज ने कहा, 'मेरे शुरुआती दौर में मेरे पिता ही मेरे कोच थे। उन्होंने मुझे काफी कुछ सिखाया। इसके बाद मुनीश बाली सर ने मुझे ट्रेनिंग दी। एनसीए में मुझे अमोल मजूमदार सर और भारत अंडर-19 टीम में राहुल द्रविड़ सर के साथ मुझे समय बिताने का अवसर मिला। उनका अनुभव और मार्गदर्शन मेरे लिए प्रेरणादायक है।' शुभमन ने कहा कि उन्हें आक्रमक रुप से बल्लेबाजी करना पसंद है लेकिन क्रीज पर बल्लेबाजी करने के दौरान यह समझना बेहद जरुरी है कि किस समय आपको आक्रमक होकर खेलना है और कब सधी हुई बल्लेबाजी करनी है। युवा बल्लेबाज ने कहा, 'किसी भी मैच से पहले टीम की बैठक में उस गेंदबाज के वीडियो दिखाए जाते हैं जिनकी गेंद पर हमें बल्लेबाजी करनी होती है। जब भी मैं सोने जाता हूं तो मैं कल्पना करता हूं किस तरह उस गेंदबाज की गेंद खेलूंगा।'

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shubman Gill is happy for selection in Indian Test Team says International Cricket is more challenging than Domestic Cricket