फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटमैंने रणजी और IPL ट्रॉफी जीतकर...श्रेयस अय्यर ने BCCI कॉन्ट्रैक्ट और टी20 वर्ल्ड कप से पत्ता कटने पर तोड़ी चुप्पी

मैंने रणजी और IPL ट्रॉफी जीतकर...श्रेयस अय्यर ने BCCI कॉन्ट्रैक्ट और टी20 वर्ल्ड कप से पत्ता कटने पर तोड़ी चुप्पी

Shreyas Iyer On BCCI Contract and T20 World Cup Snub: श्रेयस अय्यर को फरवरी में सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया गया था। उन्हें टी20 वर्ल्ड कप टीम में भी जगह नहीं मिली। अय्यर ने अब चुप्पी तोड़ी है।

मैंने रणजी और IPL ट्रॉफी जीतकर...श्रेयस अय्यर ने BCCI कॉन्ट्रैक्ट और टी20 वर्ल्ड कप से पत्ता कटने पर तोड़ी चुप्पी
Md.akram लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 08 Jun 2024 09:15 AM
ऐप पर पढ़ें

स्टार बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने बीसीसीआई सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट और टी20 वर्ल्ड कप 2024 से पत्ता कटने पर अपनी चुप्पी तोड़ी है। अय्यर को फरवरी में भारतीय क्रिकेट केंट्रोल बोर्ड के कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया गया था, जिसपर कई दिग्गजों और एक्सपर्ट ने हैरानी जताई थी। कई रिपोर्ट में दावा किया गया कि घरेलू क्रिकेट पर आईपीएल को प्राथमिकता देने के कारण अय्यर को कॉन्ट्रैक्ट में शामिल नहीं किया गया। अय्यर को इंग्लैंड टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट के बाद भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया था लेकिन वह रणजी क्वार्टर फाइनल में नहीं खेले।

हालांकि, अय्यर रणजी सेमीफाइनल और फाइनल में मुंबई के लिए खेले। अजिंक्य रहाणे के नेतृत्व वाली मुंबई टीम ट्रॉफी जीतने में सफल रही। वहीं, कोलककाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान अय्यर ने आईपीएल 2024 ट्रॉफी जीतकर अपना लोहा मनवाया। केकेआर ने 10 साल बाद खिताबी सूखा समाप्त किया। हालांकि, अय्यर के मन में कॉन्ट्रैक्ट और टी20 वर्ल्ड कप टीम में जगह नहीं मिलने का दुख है। उन्होंने कहा कि वनडे वर्ल्ड कप 2024 के बाद संवादहीनता और कुछ फैसले उनके पक्ष में नहीं जाने के कारण यह दोनों चीजें हुई।

अय्यर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ''मैंने वनडे वर्ल्ड कप में बेहतरीन प्रदर्शन किया था और उसके बाद मैं कुछ दिन के लिए विश्राम करना चाहता था। संवादहीनता के कारण कुछ फैसले मेरे पक्ष में नहीं गए। लेकिन आखिर में बल्ला मेरे हाथ में रहेगा और यह मेरे पर निर्भर करता है कि मैं कैसा प्रदर्शन करता हूं।'' उन्होंने आगे कहा, ''मैंने फैसला किया कि रणजी ट्रॉफी और आईपीएल जीतना अतीत में जो कुछ हुआ उसका कड़ा जवाब होगा और शुक्र है कि सब कुछ मेरे अनुकूल हुआ।''

बता दें कि अय्यर ने वनडे वर्ल्ड कप में कमाल का प्रदर्शन किया था।  उन्होंने 11 मैचों में 66.25 की औसत से 530 रन बनाए। वह विराट कोहली और रोहित शर्मा के बाद टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज रहे थे। अय्यर को बैक इंजरी की परेशानी भी झेलनी पड़ी। उनका हाल ही में इसको लेकर दर्द छलका था। उन्होंने आईपीएल फाइनल से पहला कहा, ''अय्यर ने कहा, '' वनडे वर्ल्ड कप के बाद लंबे प्रारूप के संदर्भ में, मैं निश्चित रूप से संघर्ष कर रहा था। जब मैंने चिंता जताई तो कोई इस पर सहमत नहीं हो रहा था, लेकिन समझदारी भरे समय में प्रतिस्पर्धा खुद से होती है।''