फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटहार्दिक को रोहित-कोहली को सम्मानपूर्वक अलविदा कहना चाहिए क्योंकि...शोएब अख्तर ने भारतीय क्रिकेट पर कही बड़ी बात

हार्दिक को रोहित-कोहली को सम्मानपूर्वक अलविदा कहना चाहिए क्योंकि...शोएब अख्तर ने भारतीय क्रिकेट पर कही बड़ी बात

पाकिस्तान के पूर्व पेसर शोएब अख्तर ने भारतीय क्रिकेट को लेकर बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि अगर बदलाव का दौर आता है तो हार्दिक पांड्या को रोहित और कोहली को सम्मानपूर्वक विदा करना चाहिए।

हार्दिक को रोहित-कोहली को सम्मानपूर्वक अलविदा कहना चाहिए क्योंकि...शोएब अख्तर ने भारतीय क्रिकेट पर कही बड़ी बात
Md.akram लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 25 Nov 2023 03:02 PM
ऐप पर पढ़ें

टीम इंडिया घरेलू सरजमीं पर वर्ल्ड कप 2023 जीतने से चूक गई, जिससे खिलाड़ियों और फैंस का दिल टूट गया। नियमित कप्तान रोहित शर्मा और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली समेत अनेक खिलाड़ियों की फाइनल में हार के बाद आंखें भर आई थीं। अगला वनडे वर्ल्ड कप 2027 में साउथ अफ्रीका में होना है और तब तक भारतीय टीम को अनेक बदलाव से गुजरना पड़ सकता है। रोहित उस वक्त 40 और कोहली 39 वर्ष के होंगे और भविष्य को लेकर अभी कुछ कहा नहीं जा सकता।

वनडे वर्ल्ड कप का खिताब हाथ से फिसलने के बाद भारत का फोकस अब टी20 वर्ल्ड कप पर शिफ्ट हो गया है, जिसका आयोजन अगले साल जून में वेस्टइंडीज और अमेरिका में होना है। पिछले 12 महीनों से भारतीय टी20 टीम की कमान धाकड़ ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या संभाल रहे हैं, जो फिलहाल टखने की चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया टी20 सीरीज से बाहर हैं। रोहित और कोहली ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप के बाद से सबसे छोटे फॉर्मेट का कोई मैच नहीं खेला है। हालांकि, दोनों के टी20 वर्ल्ड कप 2024 में खेलने की संभावानओं को पूरी तरह खारिज नहीं किया जा सकता।

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का मानना है कि अगर भारतीय क्रिकेट बदलाव के दौर से गुजरेगा तो रोहित और कोहली को सम्मानपूर्वक विदा करना हार्दिक की जिम्मेदारी होगी क्योंकि उनके सीनियर ने भी ऐसा किया था। अख्तर का कहना है कि भारत को रोहित से बेहतर ओपनर नहीं मिलेगा। उन्होंने जी न्यूज से कहा, ''अगर आप पूछें कि क्या रोहित और कोहली में क्रिकेट बचा है? हां, निश्चित रूप से उनमें क्रिकेट बाकी है। क्या आपको इस समय दुनिया में रोहित से बेहतर ओपनर मिल सकता है? नहीं।''

अख्तर ने आगे कहा, ''जब एमएस धोनी आए तो उन्होंने सचिन तेंदुलकर को सम्मान दिया। जब विराट आए तो उन्होंने धोनी का सम्मान किया। जब रोहित ने विराट की जगह कप्तानी संभाली तो उन्हें सम्मान दिया। अब यह हार्दिक पांड्या पर निर्भर है कि वह इन दो महान खिलाड़ियों को कैसे अलविदा कहना चाहते हैं। हार्दिक को उन्हें सम्मानपूर्वक अलविदा कहना होगा। वे इस सम्मान के हकदार हैं। मैं शायद यह कहकर हार्दिक पर प्रेशर डाल रहा हूं लेकिन उन्हें रोहित और कोहली को वो सम्मान देने की जरूरत है। हार्दिक टीम में उनकी वजह से हैं। उन्हें टीम में दोनों से जिस तरह का सपोर्ट मिला, उसका बदला चुकाना चाहिए। दोनों भारतीय क्रिकेट के दिग्गज हैं तो इसलिए उन्हें जाने से पहले उचित सम्मान दिया जाना चाहिए।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें