DA Image
7 जून, 2020|5:34|IST

अगली स्टोरी

शोएब अख्तर ने दी शब-ए-बारात की मुबारकबाद, कहा- अल्लाह हमें माफ करें और अच्छे दिनों से नवाजें

शोएब अख्तर ने अल्लाह से दुआ मांगते हुए कहा कि वह हम सभी को माफ करे। इसके साथ ही अल्लाह हमें एक बार फिर से अच्छे दिनों से नवाजें।

shoaib akhtar

पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने सोशल मीडिया पर शब-ए-बारात की मुबारकबाद दी है। कोरोना वायरस के बढ़ते हुए प्रकोप की वजह से लगभग पूरी दुनिया लॉकडाउन की स्थिति की सामना कर रही है। सभी को घरों में रहने की नसीहत दी जा रही है। स्पोर्ट्स और बॉलीवुड से जुड़े सेलिब्रिटीज भी लगातार अपने फैन्स से लॉकडाउन के नियमों का पालन करने की अपील कर रहे हैं। शोएब अख्तर भी सोशल मीडिया के जरिया अक्सर सामाजिक मुद्दों को उठाते रहते हैं और अपनी राय बेबाकी से रखते हैं।

इसी कड़ी में शोएब अख्तर ने शब-ए-बारात की मुबारकबाद देते हुए फैन्स से सुरक्षित रहने की अपील की है। इसके साथ ही अख्तर ने अल्लाह से दुआ मांगते हुए कहा कि वह हम सभी को माफ करे। इसके साथ ही अल्लाह हमें एक बार फिर से अच्छे दिनों से नवाजें।

अजिंक्य रहाणे की छोटी-सी बेटी भी जानती हैं, घर से बाहर नहीं जाना, देखें क्यूट VIDEO

शब-ए-बारात के दौरान जुलूस निकाला जाता है, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से इस बार ऐसा करने पर पाबंदी है। सभी सरकारें, नेता, सेलिब्रिटीज फैन्स से अपील कर रहे हैं कि शब-ए-बारात को इस बार शांति के साथ मनाया जाए, ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Shab e Barat Mubarak to everyone. May Allah forgive us all and bless us with better days. #shabebarat

A post shared by Shoaib Akhtar (@imshoaibakhtar) on

बता दें कि चीन के वुहान से आई महामारी कोरोना वायरस का कहर पाकिस्तान में भी है। पाकिस्तान में अब तक 4196 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं और 60 की मौत हो चुकी है। पाकिस्तान के अखबार डॉन की एक रिपोर्ट में पंजाब स्पेशल ब्रान्च के हवाले से कहा गया है कि 10 मार्च को तबलीगी जमात के सम्मेलन में 70 से 80 हजार लोग जुटे थे। हालांकि, जमात प्रबंधन ने दावा किया है कि 2.50 लाख से अधिक लोग इसमें शामिल हुए थे। इसमें 40 देशों के 3 हजार विदेशी नागरिक भी थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shoaib Akhtar greet Shab e Barat to everyone says May Allah forgive us all and bless us with better days