DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शाहिद अफरीदी के बचाव में उतरे शोएब अख्तर, कही ये बातें

शाहिद अफरीदी के इस खुलासे में अख्तर ने उनका समर्थन किया है और कहा है कि उन्हें भी अपने समय में सीनियर खिलाड़ियों से बुरा व्यवहार मिला।

 shahid afridi  afp

अपनी आत्मकथा में हैरान करने वाले खुलासे करने वाले पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी (shahid Afridi) के समर्थन में पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर उतर आए हैं। अफरीदी ने अपनी आत्मकथा 'गेम चेंजर' में लिखा है कि टीम के कई सीनियर खिलाड़ियों ने उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया। अपनी बात का उदाहरण देते हुए अफरीदी ने कहा कि पाकिस्तान के पूर्व कोच जावेद मियांदाद ने उन्हें 1999 में भारत के खिलाफ चेन्नई में खेले गए मैच से पहले अभ्यास सत्र में हिस्सा नहीं लेने दिया था। 

अफरीदी के इस खुलासे में अख्तर ने उनका समर्थन किया है और कहा है कि उन्हें भी अपने समय में सीनियर खिलाड़ियों से बुरा व्यवहार मिला। 

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने अख्तर के हवाले से लिखा है, “मुझे लगता है कि अफरीदी ने अपनी किताब में खराब व्यवहार के बारे में कम लिखा है। मैंने इस तरह की हरकतें अपनी आंखों से देखी हैं और मैं उनसे पूरी तरह से सहमत हूं।”

शाहिद अफरीदी ने बेटियों के खेलने को लेकर किया ऐसा कमेंट, अब हो रहे ट्रोल

अफरीदी ने साथ ही लिखा है कि मियांदाद ने मैच के बाद होने वाले पुरस्कार वितरण समारोह में अपनी तारीफ करने को कहा था जिसके बाद अफरीदी के दिल में मियांदाद को लेकर इज्जत खत्म हो गई थी। 

अख्तर ने कहा कि बाद में उन 10 खिलाड़ियों ने इन दोनों से माफी मांगी थी। अख्तर के मुताबिक, “बाद में कुछ सालों बाद, उमराह जाने से पहले उन 10 खिलाड़ियों ने हम दोनों से माफी मांगी।”

अपने अतीत के अनुभव को बयां करते हुए अख्तर ने कहा कि चार खिलाड़ी एक बार उन्हें मारने तक आ गए थे। उन्होंने कहा, “एक बार ऑस्ट्रेलिया दौरे के समय, चार खिलाड़ियों ने मुझे बल्ले से मारने का प्रयास किया।”

इमरान फरहत का आरोप- शाहिद अफरीदी हैं स्वार्थी, बर्बाद किया कई खिलाड़ियों का करियर

इससे पहले, इमरान फरहत ने अफरीदी पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा था कि वह एक मतलबी खिलाड़ी थे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shoaib Akhtar backs Shahid Afridi says he was treated harshly by senior players