shikhar dhawan says ms dhoni is best wicket keeper - 'धौनी हैं बेस्ट विकेटकीपर, पंत को अभी लंबा सफर तय करना है' DA Image
18 नबम्बर, 2019|1:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'धौनी हैं बेस्ट विकेटकीपर, पंत को अभी लंबा सफर तय करना है'

MS Dhoni and Rishabh Pant.jpg

विश्वकप के लिए भारतीय टीम में चुने गये ओपनर और आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने स्पष्ट कर दिया है कि महेंद्र सिंह धौनी ही सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर हैं और ऋषभ पंत को अभी लंबा सफर तय करना है। दिल्ली कैपिटल्स टीम के आधिकारिक आईटी स्किल्स ट्रेनिंग पार्टनर जेटकिंग इंफोट्रेन लिमिटेड के गुरुवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम में धवन ने टीम के अन्य खिलाड़ियों ऋषभ पंत, ईशांत शर्मा और हनुमा विहारी की मौजूदगी में यह बात कही।

धौनी और पंत में सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर के बारे में पूछे जाने पर शिखर ने तुरंत कहा, “धौनी सर्वश्रेष्ठ हैं। धौनी भाई के पास विशाल अनुभव है और वह मौजूदा समय में सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर हैं। पंत अभी युवा हैं और धौनी के साथ रहकर वह भविष्य में बेहतर विकेटकीपर बनेंगे।”

कुछ ऐसे बीते थे दिल्ली में ऋषभ पंत के दिन, गुरुद्वारे में भी सोना पड़ा 

ऋषभ पंत को भारतीय टीम में धौनी का उत्तराधिकारी माना जा रहा है। पंत इस समय भारतीय टेस्ट टीम का हिस्सा हैं जबकि धोनी सीमित ओवर में विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी संभालते हैं। धौनी 30 मई से इंग्लैंड में होने वाले एकदिवसीय विश्वकप में भारतीय टीम में विकेटकीपर हैं। टीम में दूसरे विकेटकीपर के रूप में दिनेश कार्तिक को शामिल किया गया है जबकि एक समय प्रबल दावेदार माने जा रहे पंत को चयनकर्ताओं ने नजरअंदाज़ किया। हालांकि, पंत को बाद में विश्वकप टीम के तीन वैकल्पिक खिलाड़ियों में शामिल किया गया है।

यह पूछने पर कि दिल्ली कैपिटल्स टीम में कोच रिकी पोंटिंग और सलाहकार सौरव गांगुली में से कौन ज्यादा प्रेरणास्त्रोत है। शिखर, ईशांत, पंत और हनुमा ने एक स्वर में कहा कि दोनों ही दिग्गजों ने टीम पर सकारात्मक प्रभाव डाला है और खिलाड़यिों को ऐसा प्रेरित किया है कि दिल्ली की टीम प्लेऑफ की दहलीज पर पहुंच गई है। 

RCB vs KXIP मैदान पर ऐसे दिखी अश्विन और विराट के बीच 'दुश्मनी'- देखें video

यह पूछने पर कि दिल्ली की टीम आईपीएल के फाइनल में किससे भिड़ना पसंद करेगी, चारों खिलाड़ियों ने एक स्वर में कहा, “हम प्लेऑफ के नजदीक हैं और उम्मीद है कि इस बार फाइनल में भी पहुंचेंगे। फाइनल में हमारे सामने कोई भी टीम आ जाए हम उससे भिड़ने के लिए तैयार रहेंगे।''

शिखर ने इस अवसर पर माता-पिता को सलाह दी कि उन्हें खुले विचारों का होना चाहिए और बच्चों पर पढ़ाई को लेकर अनावश्यक दबाव नहीं डालना चाहिए। शिखर ने कहा, “बच्चे अपने जीवन और करियर में जो करना चाहते हैं उन्हें करने देना चाहिए। मैं पढ़ाई में अच्छा नहीं था लेकिन खेल में अच्छा था इसलिए मेरे माता पिता ने मुझे खेलने दिया। लेकिन मुझे इस मुकाम तक पहुंचने में 23 साल लग गए। मैं अपने माता पिता का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझे अपना करियर बनाने दिया। बच्चों से उनका बचपन नहीं छीनना चाहिये और मैं चाहता हूं कि उनकी जो रूचि है वे उसपर दिल लगाकर काम करें।” 

शिखर धवन के साथ 'खलीबली' करते नजर आए रणवीर सिंह- देखें VIDEO

ईशांत ने भी कहा,“बच्चों को परिवार का समर्थन बहुत जरूरी हो जाता है। लेकिन ध्यान रहे कि उनपर कोई दबाव न हो और वे अपना काम खुद कर सकें।”

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:shikhar dhawan says ms dhoni is best wicket keeper