फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटशमर जोसेफ ने ICC प्लेयर ऑफ द मंथ अवॉर्ड जीतकर रचा इतिहास, इंटरनेशनल डेब्यू के एक महीने के अंदर लूटी महफिल

शमर जोसेफ ने ICC प्लेयर ऑफ द मंथ अवॉर्ड जीतकर रचा इतिहास, इंटरनेशनल डेब्यू के एक महीने के अंदर लूटी महफिल

शमर जोसेफ ने इंटरनेशनल डेब्यू के एक महीने के अंदर महफिल लूट ली। उन्होंने आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ अवॉर्ड जीतकर इतिहास रचा दिया है। शमर यह अवॉर्ड जीतने वाले वेस्टइंडीज के पहले पुरुष प्लेयर हैं।

शमर जोसेफ ने ICC प्लेयर ऑफ द मंथ अवॉर्ड जीतकर रचा इतिहास, इंटरनेशनल डेब्यू के एक महीने के अंदर लूटी महफिल
Md.akram एजेंसी,दुबईTue, 13 Feb 2024 06:42 PM
ऐप पर पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में शानदार गेंदबाजी करने वाले वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज शमर जोसेफ मंगलवार को आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ अवॉर्ड को जीतने वाले वेस्टइंडीज के पहले पुरुष खिलाड़ी बन गए। आयरलैंड की आक्रामक युवा बल्लेबाज एमी हंटर जिम्बाब्वे के खिलाफ अपने दमदार प्रदर्शन के बाद महिला वर्ग में यह खिताब जीतने में सफल रही। पिछले सप्ताह खिलाड़ियों की सूची की घोषणा के बाद आईसीसी ने मंगलवार को जनवरी के लिए पुरस्कार विजेताओं की घोषणा की।
     
जोसेफ ने 17 जनवरी 2024 को इंटरनेशनल डेब्यू किया था। उन्होंने वेस्टइंडीज के लिए अपनी पहली ही गेंद पर स्टीव स्मिथ को आउट कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का शानदार आगाज किया था। उन्होंने अपने पहले टेस्ट में स्मिथ के अलावा मार्नस लाबुशेन और कैमरून ग्रीन सहित पांच विकेट चटकाए थे। इस दौरे के दूसरे और आखिरी टेस्ट में उनका प्रदर्शन काफी अहम साबित हुआ। 216 रन के लक्ष्य का बचाव करते हुए जोसेफ ने 68 रन पर सात विकेट झटक कर टीम को आठ रन की यादगार जीत दिलाई थी।

उन्होंने इस दौरान चार बल्लेबाजों को बोल्ड किया था। इस जीत से वेस्टइंडीज दो मैचों की सीरीजको 1-1 से बराबर करने में सफल रहा और जोसेफ मैन ऑफ द सीरीज चुने गये। वह 2021 में शुरू हुए आईसीसी मासिक पुरस्कारों में खिताब जीतने वाले वेस्टइंडीज के पहले खिलाड़ी है। 

जोसेफ ने आईसीसी से जारी विज्ञप्ति में कहा, ''विश्व स्तर पर ऐसा खिताब जीतना शानदार है। मैंने वेस्टइंडीज के लिए ऑस्ट्रेलिया में खेलने के हर पल का लुत्फ उठाया था। इसमें गाबा टेस्ट का आखिरी दिन यादगार रहा।'' एमी ने जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में महज 66 गेंद में 101 रन की यादगार पारी खेली। इस 18 साल की विकेटकीपर बल्लेबाज ने इसके बाद 77 और 42 रन की शानदार पारी खेल आयरलैंड को सीरीजजीतने में अहम योगदान दिया।