फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेट30 अप्रैल तक टीम से बाहर रहेंगे शाकिब अल हसन, बोर्ड ने लिया एक्शन

30 अप्रैल तक टीम से बाहर रहेंगे शाकिब अल हसन, बोर्ड ने लिया एक्शन

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड और स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन के बीच टीम के लिए खेलने को लेकर चल रहे विवाद के बीच बीसीबी ने कहा है कि शाकिब अल हसन को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों से 30...

30 अप्रैल तक टीम से बाहर रहेंगे शाकिब अल हसन, बोर्ड ने लिया एक्शन
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 09 Mar 2022 06:46 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड और स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन के बीच टीम के लिए खेलने को लेकर चल रहे विवाद के बीच बीसीबी ने कहा है कि शाकिब अल हसन को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों से 30 अप्रैल तक आराम दिया जाएगा। जिसका मतलब है कि शाकिब 12 मार्च से 8 अप्रैल तक चलने वाले बांग्लादेश के दक्षिण अफ्रीका के आगामी दौरे का हिस्सा नहीं होंगे। बीसीबी ने शाकिब के लिए किसी रिप्लेसमेंट का नाम नहीं लिया है और शुरुआती वनडे टीम उनके बिना दक्षिण अफ्रीका की यात्रा करेगी।

रविवार को शाकिब ने अपनी "शारीरिक और मानसिक स्थिति" के कारण अंतरराष्ट्रीय ब्रेक लेने का संकेत देते हुए कहा था कि उन्हें अपने खेल के समय का प्रबंधन करने के लिए "दीर्घकालिक योजना" की आवश्यकता है। शाकिब ने कहा कि उन्होंने हाल ही में समाप्त हुई अफगानिस्तान सीरीज में एक "पैसेंजर" की तरह महसूस किया, जहां उन्होंने 74 रन बनाए और तीन वनडे और दो टी20 में सात विकेट लिए।

उन्होंने कहा, 'मैं समय या किसी की जगह बर्बाद नहीं करना चाहता। "इस तरह से खेलना, एक पैसेंजर के रूप में, यह मेरे साथियों और देश को धोखा देने या धोखा देने जैसा होगा।"

शाकिब को पिछले हफ्ते दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए दोनों टीमों में चुना गया था, जब बीसीबी अध्यक्ष नजमुल हसन ने दावा किया था कि ऑलराउंडर टेस्ट के लिए भी जाने के लिए सहमत हो गया था। जिसके बाद दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाने से शाकिब अल हसन के इनकार पर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने राष्ट्रीय टीम के प्रति उनकी प्रतिबद्धता पर सवाल उठाये हैं और बीसीबी अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा कि अगर आईपीएल की कोई टीम उन्हें चुन लेती तो क्या वह इसी तरह से ब्रेक लेते।

हालांकि, शाकिब ने कहा कि उन्होंने बीसीबी से नवंबर तक सभी टेस्ट से ब्रेक के लिए कहा था, "मैंने बोर्ड से कहा कि मैं टेस्ट से बाहर रहना चाहता हूं। इस साल 22 नवंबर तक। मैं पूरी तरह से सफेद गेंद वाले क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित करना चाहता था। हमारे पास अगले दो वर्षों में दो विश्व कप हैं।"

 

रावलपिंडी पिच पर बोले PCB प्रमुख रमीज राजा- पेस और बाउंस पिच बनाकर ऑस्ट्रेलिया की गोद में नहीं खेल सकते

 

हसन ने 'ईएसपीएन क्रिकइन्फो' से कहा,'' यह सोचना बिल्कुल तर्कसंगत है कि अगर उसकी मानसिक और शारीरिक स्थिति खराब होती तो वह आईपीएल नीलामी के लिये अपना नाम नहीं देता ।'' उन्होंने कहा ,'' लेकिन उसने अपना नाम दिया । इसके मायने क्या यह है कि आईपीएल में चुने जाने पर भी वह ऐसा ही कहता । अगर वह बांग्लादेश के लिये खेलना नहीं चाहता तो हम कुछ नहीं कर सकते ।''

 

epaper