DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  2009 में शोएब मलिक के कप्तान बनते ही इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला कर चुके थे शाहिद अफरीदी

क्रिकेट2009 में शोएब मलिक के कप्तान बनते ही इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला कर चुके थे शाहिद अफरीदी

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Namita Shukla
Mon, 17 May 2021 06:28 AM
2009 में शोएब मलिक के कप्तान बनते ही इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला कर चुके थे शाहिद अफरीदी

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और स्टार ऑल-राउंडर शाहिद अफरीदी ने कुछ चौंकाने वाले बयान दिए हैं। उन्होंने कहा कि 2009 में जब शोएब मलिक को पाकिस्तान क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया था, तब उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का मन बना लिया था। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) पिछले कुछ समय से काफी चर्चा में है। मोहम्मद आमिर ने पीसीबी की सिलेक्शन पॉलिसी पर सवाल खड़े किए तो वहीं शोएब मलिक ने कहा कि बोर्ड में काफी नेपोटिज्म है। अफरीदी ने अब पीसीबी पर इंटरनल पॉलिटिक्स का आरोप लगाया है और कहा कि इसी वजह से उन्होंने 2009 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने के बारे में सोच लिया था।

सचिन तेंदुलकर ने बताया, उनकी जिंदगी में क्रिकेट का कौन सा दिन रहा बेस्ट

अफरीदी ने हालांकि यह फैसला नहीं लिया और खेलना जारी रखा। उन्होंने 2009 में टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया, लेकिन लिमिटेड ओवर फॉर्मैट का अहम हिस्सा बने रहे, इतना ही नहीं लिमिटेड ओवर क्रिकेट में उन्होंने टीम की कमान भी संभाली। अफरीदी ने सामना टीवी पर कहा, 'मैंने सोच लिया था कि मैं आगे क्रिकेट नहीं खेलूंगा। शोएब मलिक कप्तान बन गए थे और टीम में अंदर ही अंदर काफी पॉलिटिक्स हो रही थी।' अफरीदी ने कहा कि एक बुजुर्ग आदमी की सलाह के चलते उन्होंने अपना यह फैसला बदला।

सीएसके के बैटिंग कोच माइक हस्सी ने दी कोरोना को मात, ऑस्ट्रेलिया के लिए हुए रवाना

अफरीदी ने बताया, 'उन्होंने मुझसे कहा अपनी मुश्किलों की तुलना पैगंबर मोहम्मद साहब की मुश्किलों से करके देखो, तब तुम्हें समझ आएगा कि तुम्हारी मुश्किलें कुछ भी नहीं हैं।' अफरीदी ने 2015 वर्ल्ड कप के बाद वनडे इंटरनेशनल से संन्यास लिया, जबकि टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट खेलना जारी रखा। मई 2018 में उन्होंने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला था।

संबंधित खबरें