फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटमिकी आर्थर को 'ऑनलाइन' कोच बनाने की खबरों पर शाहिद अफरीदी हैरान, बोले- 'मुझे खुद समझ नहीं आ रहा कि...'

मिकी आर्थर को 'ऑनलाइन' कोच बनाने की खबरों पर शाहिद अफरीदी हैरान, बोले- 'मुझे खुद समझ नहीं आ रहा कि...'

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी और दिग्गज ऑलराउंडर ने मिकी आर्थर को 'ऑनलाइन' कोच बनाए जाने की अटकलों पर अपनी राय रखी है। बता दें कि आर्थर पाकिस्तान टीम के हेड कोच रह चुके हैं।

मिकी आर्थर को 'ऑनलाइन' कोच बनाने की खबरों पर शाहिद अफरीदी हैरान, बोले- 'मुझे खुद समझ नहीं आ रहा कि...'
Md.akram लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 30 Jan 2023 09:31 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

हाल ही में खबरें आई थी कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) मिकी आर्थर को ऑनलाइन कोच के रूप में अपने साथ जोड़ सकता है। संभावना जताई जा रही है कि आर्थर पाकिस्तान टीम को ऑनलाइन कोचिंग देंगे। हालांकि, कई लोग इस तरह की खबरें सामने आने के बाद हैरानी भी जता रहे हैं। अब इस कड़ी में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी का भी नाम शामिल हो गया है। अफरीदी ने पत्रकरों से बातचीत के दौरान कहा कि हमें विदेशी कोच ही क्यों चाहिए।

पत्रकार ने अफरीदी से पूछा कि क्या विदेशी कोच इतना ज्यादा जरूरी है कि वह सिर्फ ऑनलाइन ही बात कर ले तो काफी है? ऑनलाइन क्रिकेट कोचिंग कैसे होगी? इसके जवाब में अफरीदी ने कहा, ''मुझे खुद समझ नहीं आ रहा कि ऑनलाइन कोचिंग कैसे होगी। मेरा कहना है कि हमें बाहर के मुल्कों के कोच की ही जरूरत क्यों है। हमारे मुल्क में ऐसे लोग हैं, जो इस जिम्मेदारी को निभा सकते हैं। पीसीबी साथ ही यह भी देखता है कि वह सियासत में हैं या नहीं और फिर पसंद-नापसंद का भी मसला है।''

अफरीदी ने आगे कहा, ''मुझे लगता है कि पॉलिटिक्स को साइड में रखकर फैसला लिया जाना चाहिए। तभी टीम परफॉर्म कर पाएगी। बाहर का कोच कोई जरूरी नहीं है। पाकिस्तान टीम को लीड करने के लिए अपने यहां लोग मौजूद हैं। कोचिंग क्या है। यह सिर्फ खिलाड़ियों को मैनेज करने का काम है। इसमें ज्यादा मुश्किल नहीं है।'' गौरतलब है कि पाकिस्तान को पिछले कुछ हफ्तों में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सरजमीं पर सीरीज में शिकस्त झेलनी पड़ी है।

बता दें कि नजम सेठी के पीसीबी चैयरमैन बनने के बाद अफरीदी को अंतरिम मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया गया था। वह न्यूजीलैंड सीरीज तक इस पद पर रहे। उनके हटने के बाद हारुन रशीद पूर्णकालिक चीफ सेलेक्टर बने। अफरीदी से जब पूछ गया कि क्या वह सीनियर टीम का कोच बनने के ख्वाहिशमंद हैं? इस सवाल पर अफरीदी ने साफ-साफ कहा कि उन जैसे पूर्व खिलाड़ियों की ज्यादा जरूरत अंडर-19 लेवल पर है। उन्होंने कहा, ''मैंने बोर्ड को अपनी दिली ख्वाहिश बता दी है।''