फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटIND vs SA 2022: संजू सैमसन 86 रन की पारी खेलने के बाद भी बने 'खलनायक'? रन चेज में ये गलती ना करते तो मैच जीत सकता था भारत

IND vs SA 2022: संजू सैमसन 86 रन की पारी खेलने के बाद भी बने 'खलनायक'? रन चेज में ये गलती ना करते तो मैच जीत सकता था भारत

भारत के लिए यह रन चेज आसान नहीं रही थी। शिखर धवन (4) और शुभमन गिल (3) के रूप में दोनों सलामी बल्लेबाज 6 ओवर के अंदर पवेलियन लौट गए थे, वहीं 51 रन पर टीम इंडिया अपने टॉप 4 बल्लेबाज खो बैठी थी।

IND vs SA 2022: संजू सैमसन 86 रन की पारी खेलने के बाद भी बने 'खलनायक'? रन चेज में ये गलती ना करते तो मैच जीत सकता था भारत
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 07 Oct 2022 05:45 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

संजू सैमसन की 86 रनों की नाबाद पारी के बावजूद भारत को पहले वनडे में साउथ अफ्रीका के खिलाफ 9 रनों से हार का सामना करना पड़ा। लखनऊ के भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी इकाना क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए बारिश से बाधित इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए मेहमान टीम ने भारत के सामने जीत के लिए 250 रनों का लक्ष्य रखा था। निर्धारित 40 ओवर में टीम इंडिया सैमसन और श्रेयस अय्यर के अर्धशतकों की मदद से 8 विकेट के नुकसान पर 240 ही रन बना सकी। इस रन चेज में संजू सैमसन ने आखिरी के कुछ ओवर में एक ऐसी गलती कर दी थी जिसकी वजह से भारत यह मैच हारा, अगर सैमसन वह गलती नहीं करते तो टीम इंडिया यह मैच जीत सकती थी।

टीम के हारने के बाद भी संजू सैमसन ने जीता दिल, फैंस और दिग्गज कर रहे नाबाद पारी की जमकर तारीफ

भारत के लिए यह रन चेज आसान नहीं रही थी। शिखर धवन (4) और शुभमन गिल (3) के रूप में दोनों सलामी बल्लेबाज 6 ओवर के अंदर पवेलियन लौट गए थे, वहीं 51 रन पर टीम इंडिया अपने टॉप 4 बल्लेबाज खो बैठी थी। धवन-गिल के बाद ऋतुराज गायकवाड़ 42 गेंदों पर 19 और ईशान किशन 37 बॉल पर 20 रन बनाकर आउट हुए।

इसके बाद बल्लेबाजी करने आए श्रेयस अय्यर ने 37 गेंदों पर 8 चौकों की मदद से तेज तर्रार अर्धशतक जड़ टीम को ना सिर्फ मुश्किल से निकाला बल्कि संजू सैमसन के साथ भी शानदार साझेदारी की। अय्यर को जब 118 के स्कोर पर लुंगी एनगिडी ने आउट किया तो रन बनाने का सारा जिम्मा संजू सैमसन के कंधों पर आ गया था। 

वर्ल्ड कप से पहले मोहम्मद शमी का सोशल मीडिया पोस्ट हुआ वायरल, लोगों को दे रहे प्यार न करने की सलाह

सैमसन शानदार बल्लेबाजी करते हुए मैच को आखिरी ओवर तक खींच रहे थे। मगर 39वें ओवर में वह ऐसी गलती कर बैठी जिसका खामियाजा भारत को भुगतना पड़ा। दरअसल, आखिरी दो ओवर में टीम इंडिया को जीत के लिए 37 रनों की दरकार थी। 38वें ओवर में भी भारत को मात्र 8 रन मिले थे। 39वां ओवर लेकर आए रबाडा की पहली गेंद का सामना आवेश खान कर रहे थे क्योंकि पिछले ओवर की आखिरी गेंद पर सैमसन स्ट्राइक बदले में नाकाम रहे थे।

रबाडा ने शानदार गेंदबाजी करते हुए पहली दो गेंदें डॉट करवाई, तीसरी गेंद आवेश खान के बैट पर लगी तो सैमसन के पास स्ट्राइक बदलने का शानदार मौका था। वहां एक रन लेकर सैमसन अगली तीन गेंदों का फायदा उठा सकते थे, मगर सैमसन ने उस गेंद पर एक की जगह दो रन ले लिए और स्ट्राइक वापस 9वें नंबर के बल्लेबाज अवेश खान को दे दी। यही सैमसन सबसे बड़ी गलती कर बैठे। पहले तीन गेंदों पर दो रन रन आने के बाद अगली तीन गेंदों पर भारत 5 रन ही बटोर पाया। जिस वजह से भारत को आखिरी ओवर में 30 रनों की दरकार थी। अगर सैमसन रबाडा की आखिरी तीन गेंदें खेलते तो शायद ये  समीकरण कुछ अलग हो सकता था। बता दें रबाडा ने इस ओवर की आखिरी गेंद नॉ बॉल भी फेंकी थी।

ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले सिद्धिविनायक मंदिर पहुंचे रोहित शर्मा, बेटी को कंधे पर बैठाकर किया दर्शन, WC के लिए गणपति बप्पा का लिया आशीर्वाद; देखिए फोटो

आखिरी ओवर में सैमसन ने तबरेज शम्सी के खिलाफ तीन चौके और 1 छक्के की मदद से 20 रन बटोरे और भारत यह मैच 9 रन से हार गया। सैमसन ने 9 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 86 रनों की नाबाद पारी खेली। सीरीज का दूसरा मुकाबला रांची में 9 अक्टूबर को खेला जाना है।
 

लेटेस्ट Cricket News, Cricket Live Score, Cricket Schedule और T20 World Cup की खबरों को पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।