DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO: आईसीसी 'हॉल ऑफ फेम' में चुने जाने के बाद सचिन ने पहली बार दी प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहा

आईसीसी द्वारा अपने 'हॉल ऑफ फेम' में स्थान दिए जाने के बाद मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने पहली बार इस उपलब्धि पर प्रतिक्रिया दी है। जानिए उन्होंने क्या कहा...?

sachin tendulkar first response on icc s hall of fame jpg

आईसीसी द्वारा अपने 'हॉल ऑफ फेम' में स्थान दिए जाने के बाद मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने पहली बार इस उपलब्धि पर प्रतिक्रिया दी है। सचिन ने खुद को 'हॉल ऑफ फेम' से सम्मानित किए जाने पर आईसीसी को धन्यवाद देते हुए अपनी कृतज्ञता जाहिर की है। सचिन तेंदुलकर ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया,'आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल होकर अभिभूत हूं और खुशी महसूस कर रहा हूं। मैं आज जो भी हूं मुझे वहां तक पहुंचाने में बहुत लोगों ने मदद की है। मैं अपने परिवार, दोस्तों, दुनियाभर के प्रशंसकों को मेरे प्रति उनके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद कहता हूं। कैथरिन फिट्जपैट्रीक और एलन डोनाल्ड को भी बधाई।'

Read Also: 'ऑस्ट्रेलिया में 2020 में होने वाला T20 WC खेलकर ही संन्यास लें एमएस धौनी'

सचिन ने आईसीसी और सभी समर्थकों का किया धन्यवाद
गौरतलब है कि सचिन 'आईसीसी हॉल ऑफ फेम' में शामिल होने वाले छठे भारतीय क्रिकेटर हैं। उनसे पहले बिशन सिंह बेदी, सुनील गावस्कर, कपिल देव, अनिल कुंबले और राहुल द्रविड़ को इस सम्मान से नवाजा जा चुका है। सचिन के साथ ही दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज एलन डोनाल्ड और ऑस्ट्रेलिया की पूर्व महिला क्रिकेटर कैथरीन फिट्जपै​ट्रीक को भी आईसीसी ने अपने 'हॉल ऑफ फेम' में शामिल किया है। कैथरीन फिट्जपै​ट्रीक को दुनिया की सबसे तेज महिला गेंदबाज होने का गौरव प्राप्त है। सचिन ने 'हॉल ऑफ फेम' में खुद को शामिल करने के काबिल समझने के लिए आईसीसी को धन्यवाद दिया है।

Read Also: विश्व कप फाइनल की घटना के बाद 'ओवर थ्रो' नियम की समीक्षा करेगा एमसीसी

साल 2011 का विश्व कप विजय सचिन के लिए सबसे खास
उन्होंने ट्वीट किया, 'मुझे लगता है कि सभी अवॉर्ड्स महत्वपूर्ण हैं। मैं तुलना करना नहीं चाहता। हर अवॉर्ड और हर प्रशंसा का अपना अलग स्थान होता है। मैं इसको महत्व देता हूं। यही है जो मैंने अपने 24 साल के क्रिकेटिंग करियर में हासिल किया है। अब आईसीसी और उसके कमिटी मेंबर्स ने मुझे हॉल ऑफ फेम में शामिल करने के काबिल समझा है। यह एक अतुलनीय खिलाड़ियों की सूची है जिसमें शामिल होकर मैं गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं।' सचिन तेंदुलकर ने अपने 24 साल लंबे क्रिकेटिंग करियर में साल 2011 के विश्व विजय को सबसे यादगार और बहुमूल्य पल बताया।

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।    

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sachin Tendulkar first response on being conferred Hall of Fame by ICC says thank you for finding me worthy enough