फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटभारतीय खिलाड़ियों पर की गई नस्ली टिप्पणी को लेकर सचिन तेंदुलकर ने जताया अफसोस, लिखा यह खास मैसेज

भारतीय खिलाड़ियों पर की गई नस्ली टिप्पणी को लेकर सचिन तेंदुलकर ने जताया अफसोस, लिखा यह खास मैसेज

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच सिडनी में खेला जा रहा है। टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद भारतीय टीम ने दर्शकों द्वारा अपशब्द कहे जाने को लेकर शिकायत दर्ज...

भारतीय खिलाड़ियों पर की गई नस्ली टिप्पणी को लेकर सचिन तेंदुलकर ने जताया अफसोस, लिखा यह खास मैसेज
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 11 Jan 2021 08:37 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच सिडनी में खेला जा रहा है। टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद भारतीय टीम ने दर्शकों द्वारा अपशब्द कहे जाने को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बावजूद, मैच के चौथे दिन ऑस्ट्रेलियाई दर्शक एक बार मोहम्मद सिराज पर नस्लभेदी टिप्पिणां करते नजर आए, जिसके खिलाफ सिराज ने बीच मैच में शिकायत की और पुलिस की मदद से छह लोगों को स्टेडियम से बाहर भेजा गया। इस घटना के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने भारतीय खिलाड़ियों से माफी मांगी, जबकि आईसीसी ने इसको लेकर जांच के आदेश भी दे दिए हैं। इसी बीच, टीम इंडिया के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने सिडनी में दर्शकों द्वारा की गई इस हरकत को लेकर अफसोस जताया है। 

 

सचिन ने अपने ट्विटर पर इस घटना की निंदा करते हुए लिखा, ' स्पोर्ट्स का मतलब हमको जोड़ना है, ना की हमको अलग करना।  क्रिकेट कभी भेदभाव नहीं करता। बल्ला और गेंद टेलैंट पहचानता है उस इंसान का जिसने उसको पकड़ा होता है- ना रेस, रंग, धर्म और ना ही राष्टीयता। जो लोग इस बात को नहीं समझते हैं, उनके लिए स्पोर्टिंग एरीना में कोई जगह नहीं है।' सचिन के अलावा, टीम के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने इस घटना का विरोध किया था। भारत के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'अगर आप मैदान पर खिलाड़ियों का सम्मान नहीं करते तो स्टेडियम में ना आएं।' साल 2008 में सिडनी में ही खेले गए टेस्ट मैच के दौरान नस्ली टिप्पणी को लेकर पहले भी विवाद हो चुका है।

साक्षी ने शेयर की 2008 की धोनी के साथ अनसीन फोटो 

इस मामले को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने भारतीय खिलाड़ियों से माफी मांगी थी। सीए के इंटिग्रिटी एवं सुरक्षा प्रमुख सीन केरोल ने कहा था कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया हर तरह के भेदभावपूर्ण व्यवहार की कड़ी निंदा करता है। उन्होंने कहा था कि सीरीज का मेजबान होने के नाते हम भारतीय क्रिकेट टीम में अपने मित्रों से माफी मांगते हैं और उन्हें आश्वासन देते हैं कि हम इस मामले में कड़ी कार्रवाई करेंगे। इस मामले को लेकर बीसीसीआई ने भी अपनी नाराजगी जाहिर की थी और कहा था कि इस तरह की हरकत बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।