sachin tendulkar asked prithvi shaw to never change his stance and grip in future - पृथ्वी शॉ को लेकर बोले सचिन- इस खिलाड़ी में कभी मत करना ये बदलाव DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पृथ्वी शॉ को लेकर बोले सचिन- इस खिलाड़ी में कभी मत करना ये बदलाव

तेंदुलकर ने कहा, ''मैंने उसे कहा था कि भविष्य में उसके कोच उसे जितने भी निर्देश दें, वह अपनी ग्रिप या स्टांस नहीं बदले। अगर कोई तुम्हें ऐसा करने के लिए कहे तो उसे कहना कि वह मुझसे बात करे"

Prithvi Shaw

हाल ही में इंग्लैंड के मुश्किल टेस्ट दौरे के लिए मुरली विजय की जगह 18 साल के उभरते हुए बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को शामिल किया गया। लंबे वक्त से सचिन तेंदुलकर पृथ्वी शॉ को टीम में मौका दिए जाने की पैरवी करते आए हैं। अब सचिन ने इंग्लैंड में खेलने से पहले इस युवा बल्लेबाज को एक बेहद जरूरी सलाह दी है और उसे कभी नहीं भूलने पर भी जोर दिया है।  

'कभी अपनी ग्रिप या स्टांस मत बदलना'
बता दें कि तेंदुलकर ने पृथ्वी की प्रतिभा को आठ साल की उम्र में ही पहचान लिया था और उन्होंने उसे कहा था कि कोई कोच उसकी नैचुरल तकनीक को नहीं बदले। तेंदुलकर ने अब अपने एप '100 एमबी' पर कहा, ''मैंने उसे कहा था कि भविष्य में उसके कोच उसे जितने भी निर्देश दें, वह अपनी ग्रिप या स्टांस नहीं बदले। अगर कोई तुम्हें ऐसा करने के लिए कहे तो उसे कहना कि वह मेरे से बात करे। कोचिंग देना अच्छा होता है लेकिन किसी खिलाड़ी में अत्याधिक बदलाव करना नहीं।"

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग: एक बार फिर से नंबर वन पर पहुंचे विराट कोहली, तीसरे टेस्ट में बनाए थे कुल 200 रन

अगले दो टेस्ट के लिए विजय और कुलदीप की छुट्टी, इन दो युवाओं को किया शामिल

10 साल पहले सचिन ने पृथ्वी के टैलेंट को भांप लिया 
पूर्व महान बल्लेबाज सचिन ने कहा, ''यह बेहद महत्वपूर्ण है कि जब आप ऐसे विशेष खिलाड़ी को देखें तो कुछ बदलाव नहीं करें। यह भगवान का तोहफा है।" पृथ्वी को इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम दो टेस्ट के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया है। तेंदुलकर को खुशी है कि उन्होंने पहली बार आठ साल की उम्र में उसे बल्लेबाजी करते देखकर उसके अंदर की प्रतिभा को भांप लिया था। तेंदुलकर ने कहा, ''लगभग 10 साल पहले मेरे एक मित्र ने मुझे युवा पृथ्वी को खेलते हुए देखने को कहा। उसने मुझे कहा कि मैं उसके खेल का आंकलन करूं और उसे कुछ सलाह दूं। मैंने उसके साथ सत्र में हिस्सा लिया और खेल में सुधार के लिए कुछ चीजें बताई।"

india vs england test series: विराट कोहली की इस आदत से भज्जी को ऐतराज, जानिए क्या है वो आदत

पृथ्वी को पहली बार खेलते हुए देखने के बाद तेंदुलकर ने अपने मित्र से कहा था, ''तुम देख रहे हो? यह भविष्य का भारतीय खिलाड़ी है। इस साल 18 साल के पृथ्वी की अगुवाई में भारत ने अंडर 19 विश्व कप जीता। उन्होंने 14 प्रथम श्रेणी मैचों में सात शतक की मदद से 56.72 की औसत के साथ 1418 रन बनाए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sachin tendulkar asked prithvi shaw to never change his stance and grip in future