फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेट'रोहित, कोहली और राहुल से चयनकर्ताओं को बातचीत करनी होगी'; पूर्व क्रिकेटर ने तीनों के स्ट्राइक रेट पर खड़े किए सवाल

'रोहित, कोहली और राहुल से चयनकर्ताओं को बातचीत करनी होगी'; पूर्व क्रिकेटर ने तीनों के स्ट्राइक रेट पर खड़े किए सवाल

सबा करीम ने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप 2022 से पहले रोहित शर्मा, विराट कोहली और केएल राहुल के स्ट्राइक-रेट पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि चयनकर्ताओं को उनके साथ बातचीत करनी पड़ सकती है

'रोहित, कोहली और राहुल से चयनकर्ताओं को बातचीत करनी होगी'; पूर्व क्रिकेटर ने तीनों के स्ट्राइक रेट पर खड़े किए सवाल
Ezaz Ahmadलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 25 Jun 2022 08:16 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप 2022 के लिए भारतीय बल्लेबाजी क्रम में टॉप ऑर्डर तय हैं। केएल राहुल और रोहित शर्मा सलामी बल्लेबाज के रूप में होंगे जबकि विराट कोहली नंबर 3 पर बैटिंग करेंगे। लेकिन तीनों का स्ट्राइक-रेट ऐसा नहीं है जिससे हर कोई प्रभावित हो सके। पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज सबा करीम का मानना है कि अगर यही हाल रहा तो चयनकर्ताओं को उनके साथ बातचीत करनी पड़ सकती है। टीम इंडिया ने 2007 के बाद से टी20 वर्ल्ड कप नहीं जीता है। उपरी क्रम में अभी ईशान किशन और ऋतुराज गायकवाड़ भी अभी रेस में बने हुए हैं।

विराट-रोहित के साथ स्पेशल क्लब में शामिल हुईं स्मृति मंधाना, हरमनप्रीत ने तोड़ा मिताली राज का बड़ा रिकॉर्ड

सबा करीम ने हिन्दुस्तान टाइम्स के एक सवाल के जवाब में कहा, ''चयनकर्ताओं के लिए मुश्किल फैसला होगा। इस समय मुझे भरोसा है कि तीनों रोहित शर्मा, केएल राहुल और विराट कोहली प्‍लेइंग XI का हिस्‍सा होंगे।' उन्‍होंने कहा कि रोहित, कोहली और राहुल के अपनी बल्‍लेबाजी की सोच बदलने का पर्याप्‍त अनुभव है और वे टी20 क्रिकेट में तेजी से रन बनाना जानते हैं। 

'धोनी के चलते विराट कोहली का करियर ऊंचाइयों पर पहुंचा, यहां सीनियर्स को हमारी सफलता ही हजम नहीं होती';

उन्‍होंने कहा, 'अगर ऐसी आलोचनाएं उनकी होती है तो उन्हें इसका हल निकालना पड़ेगा ताकि वे बेहतर तरीके से उभरकर आएं। अगर ऐसा नहीं होता तो टीम मैनेमेंट या चयनकर्ताओं को व्‍यक्तिगत स्‍तर पर खिलाड़‍ियों से सख्त बातचीत करनी होगी क्‍योंकि तीनों को कड़ी चुनौती मिल रही है। जिन खिलाड़‍ियों के बारे में बात कर रहे हैं उनके पास अपनी बल्‍लेबाजी में बदलाव करने के पर्याप्‍त अनुभव है, इसलिए यह नेशनल टीम के लिए अच्छी बात है।' 

epaper