फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटतुम घमंडी हो, भगवान भी माफ नहीं करेगा...गंभीर की इस पोस्ट पर भड़क उठे श्रीसंत, कंट्रोवर्सी की जांच करेगा LLC

तुम घमंडी हो, भगवान भी माफ नहीं करेगा...गंभीर की इस पोस्ट पर भड़क उठे श्रीसंत, कंट्रोवर्सी की जांच करेगा LLC

Sreesanth reacts to Gautam Gambhir Post: एस श्रीसंत ने गौतम गंभीर की पोस्ट पर रिएक्ट किया है। गंभीर ने श्रीसंत से लड़ाई के बाद गुरुवार को सोशल मीडिया पर अपनी एक हंसनी वाली तस्वीर शेयर की थी।

तुम घमंडी हो, भगवान भी माफ नहीं करेगा...गंभीर की इस पोस्ट पर भड़क उठे श्रीसंत, कंट्रोवर्सी की जांच करेगा LLC
Md.akram लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 07 Dec 2023 10:42 PM
ऐप पर पढ़ें

एस श्रीसंत और गौतम गंभीर बुधवार को लीजेंड्स लीग (एलएलसी) के एलिमिनेटर मैच में भिड़ गए थे। दोनों पूर्व भारतीय खिलाड़ियों की सूरत के मैदान पर तीखी बहस हुई, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। दोनों को अलग करने के लिए अंपायर को हस्तक्षेप करना पड़ा था। श्रीसंत ने वीडियो शेयर कर गंभीर की आलोचना की और कई आरोप लगाए। उन्होंने गंभीर को 'मिस्टर फाइटर' करार दिया और कहा कि वह लाइव टीवी पर मुझे फिक्सर बोल रहा था। वहीं, गंभीर ने लड़ाई के बाद गुरुवार को इंस्टाग्राम पर भारतीय जर्सी में अपनी एक हंसने वाली फोटो शेयर की और लिखा, ''जब दुनिया का काम ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने का हो तो मुस्कुराते रहो।'' गंभीर पूर्वी दिल्ली से भाजपा के सांसद हैं।

गंभीर की इस पोस्ट पर श्रीसंत भड़क उठे हैं। उन्होंने पोस्ट पर एक लंबा-चौड़ा कमेंट किया और गंभीर को घमंडी बताया। उन्होंने कहा कि भगवान भी गंभीर को माफ नहीं करेगा। श्रीसंत ने लिखा, ''तुमने एक खिलाड़ी और एक भाई की हद को पार कर दिया है। तुम लोगों का प्रतिनिधित्व करते हो। तुम हर क्रिकेटर से उलझते रहते हो। तुम्हारे साथ क्या मसला है? मैंने सिर्फ मुस्कुराकर देखा और तुमने मुझे फिक्सर करार दिया? सीरियसली? क्या तुम सुप्रीम कोर्ट से ऊपर हो? तुम्हें इस तरह से बोलने और कुछ भी कहने का कोई अधिकार नहीं है।'' बता दें कि श्रीसंत पर आईपीएल 2013 में स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में उनकी कथित लिप्तता के कारण बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति ने आजीवन प्रतिबंध लगाया था। लेकिन उच्चतम न्यायालय ने 2019 में इस प्रतिबंध को घटाकर सात साल का कर दिया था।

श्रीसंत ने कहा, ''तुमने अंपायरों को भी अपशब्द कहे, फिर भी मुस्कुराने की बात करते हो? तुम एक घमंडी और पूरी तरह से क्लासलेस शख्स हो, जिसमें समर्थकों के लिए किसी भी प्रकार का सम्मान नहीं है। कल तक मैं हमेशा तुम्हारे और तुम्हारे परिवार के प्रति सम्मान रखता था। हालांकि, तुमने अपमानजनक शब्द 'फिक्सर' का इस्तेमाल सिर्फ एक बार नहीं, बल्कि सात या आठ बार किया। यहां तक कि तुमने लगातार मुझे उकसाने की कोशिश करते हुए अंपायरों और मेरे प्रति एफ-शब्द का इस्तेमाल भी किया। जिस किसी ने भी यह अनुभव किया कि मैंने क्या सहा है वह तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा। तुम जानते हो कि तुमने जो कहा और किया वो गलत था। मुझे यकीन है कि भगवान भी तुम्हें माफ नहीं करेगा।''

गौरतलब है कि श्रीसंत द्वारा उन्हें 'फिक्सर' कहने का आरोप लगाने के बाद एलएलसी ने कहा कि वह इसकी आंतरिक जांच कराएगा। एलएलसी की आचार संहिता एवं नैतिक समिति के प्रमुख सैयद किरमानी ने गुरुवार को एक बयान में कहा, ''लीजेंड्स क्रिकेट लीग क्रिकेट और खेल भावना को बनाए रखने की कोशिश करती है और आचार संहिता के इस उल्लघंन के लिए एक आंतरिक जांच की जाएगी। मैदान के बाहर या अंदर, या फिर सोशल मीडिया मंच पर हुए किसी भी तरह के गलत आचरण से सख्ती से निपटा जाएगा।'' उन्होंने कहा, ''आचार संहिता में स्पष्ट रूप से बताया गया है कि लीग, खेल भावना और जिस टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, उसे बदनाम करने के लिए खिलाड़ियों पर जरूरी कार्रवाई की जाएगी।'' उन्होंने कहा, ''हम अपना रूख स्पष्ट करते हैं तथा देश और दुनिया भर के लाखों खेल प्रेमियों के साथ खेल साझा करने की ओर काम करना जारी रखेंगे।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें