DA Image
12 जुलाई, 2020|11:48|IST

अगली स्टोरी

कभी ब्रेट ली ने उड़ाई थी नींद, अब हेजलवुड का सामना नहीं करना चाहता: रोहित शर्मा

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने बताया है कि उन्हें ब्रेट ली और डेल स्टेन को खेलने में काफी मुश्किल आई है।

rohit sharma  afp

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने बताया है कि उन्हें ब्रेट ली और डेल स्टेन को खेलने में काफी मुश्किल आई है। रोहित शर्मा ने यह बात मोहम्मद शमी के साथ इंस्टाग्राम के एक लाइव सेशन में कही। इस बातचीत में रोहित शर्मा ने अपने फेवरेट बल्लेबाजों के नाम भी बताए। ब्रेट ली की तूफानी गेंदबाजी का सामना करने के विचार से ही एक समय रोहित शर्मा की नींद उड़ जाती थी, लेकिन वर्तमान गेंदबाजों में जोश हेजलवुड वह तेज गेंदबाज हैं, जिनका यह भारतीय सलामी बल्लेबाज टेस्ट मैचों में सामना नहीं करना चाहता है। 

रोहित ने कहा कि कोविड-19 महामारी से राहत मिलने पर भारत जब इस साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगा तो उन्हें हेजलवुड का सामना करने के लिए मानसिक रूप से तैयार होना होगा।  रोहित से पूछा गया कि उन्हें अब तक किस तेज गेंदबाज का सामना करने में सबसे मुश्किल आई। उन्होंने कहा, ''वह गेंदबाज ब्रेट ली है, क्योंकि 2007 में ऑस्ट्रेलिया के मेरे पहले दौरे में उसके कारण मैं सो नहीं पाया था क्योंकि मैं सोच रहा था कि 150 किमी से अधिक की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले इस गेंदबाज का कैसे सामना करूं।''

पूर्व पाक खिलाड़ी का दावा, उमर अकमल से लगातार धमकी मिलने की वजह से टीम छोड़कर भागना पड़ा था

रोहित शर्मा ने कहा, ''जब मैंने क्रिकेट की दुनिया में अपने कदम रखे, उस वक्त ब्रेट ली दुनिया के सबसे तेज गेंदबाज थे। मेरे वनडे की डेब्यू सीरीज दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ थी। इस सीरीज के लिए मैं आयरलैंड गया और उस वक्त डेल स्टेन काफी खतरनाक थे। जब मैंने खेलने शुरू किया, तब मुझे ब्रेट ली और डेल स्टेन दोनों ही बहुत अच्छे लगे, लेकिन इन दोनों के सामने खेलने में काफी परेशानी भी होती थी। ''

मोहम्मद शमी ने जब रोहित शर्मा से उनके फेवरेट गेंदबाजों के बारे में पूछा तो उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के कगिसो रबाडा और ऑस्ट्रेलिया के जोश हेजलवुड का नाम लिया। उन्होंने वर्तमाम गेंदबाजों में इन दोनों बॉलरों को चुना। उन्होंने कहा, ''वर्तमान गेंदबाजों में से रबाडा काफी शानदार गेंदबाज हैं। मुझे जोश हेजलवुड भी बहुत पसंद हैं। वह बेहतरीन अनुशासन के साथ बॉलिंग करते हैं।''

उन्होंने कहा, ''वर्तमान समय में जिस गेंदबाज का मैं टेस्ट मैचों में सामना नहीं करना चाहता हूं, वह जोश हेजलवुड है क्योंकि वह बेहद अनुशासित गेंदबाज है और अपनी लेंथ से टस से मस नहीं होता। वह आपको ढीली गेंद नहीं देते हैं।'' रोहित ने कहा कि वर्तमान समय के तेज गेंदबाजों में हेजलवुड सर्वश्रेष्ठ है। उन्होंने कहा, ''मैंने उसे समझने के लिए उसकी गेंदबाजी को काफी देखा है। मैं जानता हूं कि अगर मैं इस साल ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेलने के लिए जाता हूं तो मुझे जोश का सामना करते हुए अनुशासित बने रहने के लिए मानसिक तौर पर तैयार रहना होगा।''

मोहम्मद शमी ने तीन बार की थी आत्महत्या की कोशिश, जिंदगी के उन बुरे दिनों के बारे में खोला राज

रोहित शर्मा ने आयरलैंड और साउथ अफ्रीका के खिलाफ ट्राई सीरीज में 2007 में वनडे डेब्यू किया था। 33 साल के रोहित शर्मा दुनिया के इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक जड़े हैं। उनके नाम वनडे में सर्वोच्च रनों का स्कोर भी दर्ज है। 

रोहित शर्मा ने कोलकाता के ईडन गार्डन्स में श्रीलंका के खिलाफ 264 रनों की शानदार पारी खेली थी, जो वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट का सर्वोच्च स्कोर है। उन्होंने दो दोहरे शतक श्रीलंका और एक दोहरा शतक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया है। 

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में रोहित शर्मा टॉप स्कोरर रहे थे। उन्होंने 9 मैचों में 81.00 की औसत से 648 रन बनाए थे। हालांकि, भारत इस वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल में हार गया था जिसका रोहित शर्मा को बेहद अफसोस है। रोहित वर्ल्ड कप के दौरान ऐसे पहले बल्लेबाज बने थे, जिसने एक ही वर्ल्ड कप में 5 शतक जड़े हैं। बता दें कि रोहित शर्मा लिमिटेड ओवर्स के क्रिकेट में भारत के उप कप्तान हैं। उन्होंने अब तक 224 वनडे, 108 टी-20 और 31 टेस्ट मैच खेले हैं और तीनों फॉर्मैट में कुल 14,029 रन बनाए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rohit Sharma picks brett lee and dale steyn as toughest bowler says had difficulty in facing