DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › ऋषभ पंत ने इंग्लैंड सीरीज से पहले बताया, उन्होंने भारतीय टीम में कैसे वापसी करके मचाई धूम
क्रिकेट

ऋषभ पंत ने इंग्लैंड सीरीज से पहले बताया, उन्होंने भारतीय टीम में कैसे वापसी करके मचाई धूम

एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Hemraj Chauhan
Sat, 31 Jul 2021 10:18 PM
ऋषभ पंत ने इंग्लैंड सीरीज से पहले बताया, उन्होंने भारतीय टीम में कैसे वापसी करके मचाई धूम

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलने के लिए तैयार है। भारत 4 अगस्त को पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला खेलेगी।  पंत को खुशी है कि उन्होंने अपने छोटे  इंटरनेशनल करियर में अभी तक उतार चढ़ाव देखे हैं जिससे उन्हें एक खिलाड़ी के तौर पर निखरने में मदद मिली क्योंकि उन्होंने अपनी गलतियों से सबक लिए।  हाल में कोविड-19 से उबरने वाले पंत भारत की तरफ से अपना 22वां टेस्ट मैच उसी मैदान (ट्रेंटब्रिज) पर खेलने के लिये तैयार हैं जिस पर उन्होंने 2018 में लंबा छक्का जड़कर टेस्ट मैचों में अपनी पहली छाप छोड़ी थी।
    
पंत ने शनिवार को 'बीसीसीआई.टीवी से कहा, 'यह शानदार यात्रा रही क्योंकि मेरे करियर के शुरू में ही मैंने कई उतार चढ़ाव देखे। एक क्रिकेटर के रूप में आप आगे बढ़ते हो, अपनी गलतियों से सीख लेते हैं, खुद में सुधार करते हो तथा वापसी करके अच्छा प्रदर्शन करते हो। मुझे खुशी है कि मैंने अपनी गलतियों से सबक लिए और इसके बाद मुझे जो भी मौका मिला मैंने उसका फायदा उठाया। मैं खुश हूं।' पंत ने कहा कि वह बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए सभी शीर्ष क्रिकेटरों से सीख लेने की कोशिश करते हैं। 


उन्होंने कहा, 'मैं रोहित भाई से बहुत बात करता हूं, जैसे कि खेल के बारे में कि पिछले मैच में हमने क्या किया और आगे के मैचों में हम क्या कर सकते हैं। मैं अपने खेल में क्या नया जोड़ सकता हूं। मैं विराट भाई से भी तकनीकी ज्ञान लेता हूं। विशेषकर इंग्लैंड के खेलते हुए विकेट के आगे और पीछे के खेल के बारे में।' वह बेहतर खिलाड़ी बनने के लिये हर किसी से सीख लेना चाहते हैं।

हर्षा भोगले ने चुनी भारत की टी-20 वर्ल्ड कप की टीम, इस दिग्गज खिलाड़ी को नहीं मिली जगह

उन्होंने कहा कि मैं रवि भाई (शास्त्री) से भी काफी बात करता हूं क्योंकि उन्होंने दुनिया भर में काफी क्रिकेट खेली है। ऐश भाई (अश्विन) जब गेंदबाजी कर रहे होते हैं तो उन्हें पता होता है कि बल्लेबाज के क्या इरादे हैं। इसलिए एक बल्लेबाज के तौर पर मैं गेंदबाज से बात कर सकता हूं कि वह क्या सोच रहा है। एक खिलाड़ी के तौर पर मैं हर किसी से सीख लेना चाहता हूं।    

संबंधित खबरें