फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटऋषभ पंत 6 महीने के लिए हुए टीम से बाहर, वर्ल्ड कप 2023 में खेलना भी संभव नहीं!

ऋषभ पंत 6 महीने के लिए हुए टीम से बाहर, वर्ल्ड कप 2023 में खेलना भी संभव नहीं!

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत अगले 6 महीने के लिए टीम से बाहर हो चुके हैं। वर्ल्ड कप 2023 में भी उनका खेलना संभव नहीं है, क्योंकि वे जब तक वापसी करेंगे, तब तक टीम लगभग बन चुकी होगी।

ऋषभ पंत 6 महीने के लिए हुए टीम से बाहर, वर्ल्ड कप 2023 में खेलना भी संभव नहीं!
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 14 Jan 2023 06:44 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के 2023 के अधिकांश समय के लिए क्रिकेट दूर से रहने की संभावना है। यहां तक कि वे अगले कम से कम 6 महीने शायद ही मैदान पर खेलते हुए नजर आएं। वे पहले ही आईपीएल सहित कई बड़े टूर्नामेंटों से बाहर हो गए हैं। 30 दिसंबर को हुए कार एक्सीडेंट में ऋषभ पंत गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जिसमें उनके घुटने में काफी चोट आई थी। 

ईसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट की मानें तो बीसीसीआई ने जो मेडिकल अपडेट दिया है, जिसमें कहा गया है कि विकेटकीपर बल्लेबाज के घुटने के तीन प्रमुख लिगामेंट को चोट पहुंची थी, जिसमें में से दो की सर्जरी हो चुकी है, जबकि तीसरे की सर्जरी अब से 6 सप्ताह बाद होगी। इन्हीं चीजों को देखते हुए पंत के अगले 6 महीने क्रिकेट खेलने की संभावना नहीं के बराबर पर है।  

इसी के चलते ऋषभ पंत अक्टूबर-नवंबर में होने वाले आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप से भी दूर रहेंगे, क्योंकि अगर वे वापसी भी करते हैं तब भी देर हो चुकी होगी। रुड़की में उनकी कार का एक्सीडेंट हुआ था, जिसमें उनके शरीर पर काफी घाव हो गए थे और घुटने में काफी समस्या था, जिसका इलाज इस समय मुंबई में धीरूभाई अंबानी अस्पताल में चल रहा है। 

रविंद्र जडेजा का हो गया है टीम में सलेक्शन, लेकिन ऐसे मिलेगा प्लेइंग इलेवन में मौका

डॉक्टरों द्वारा अभी तक कोई निश्चित समयसीमा नहीं दी गई है कि पंत को प्रशिक्षण फिर से शुरू करने में कितना समय लगेगा, लेकिन बीसीसीआई और चयनकर्ताओं दोनों ने निष्कर्ष निकाला है कि विकेटकीपर बल्लेबाज कम से कम छह महीने के लिए बाहर रहेंगे। पंत, जो आखिरी बार दिसंबर में बांग्लादेश के दौरे पर सीरीज खेले थे, उन्हें श्रीलंका के खिलाफ घरेलू सीरीज में आराम दिया गया था।