फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटरिकी पोंटिंग और नासिर हुसैन ने दिया बयान, बोले- इन 3 देशों को आगे बढ़ानी होगी टेस्ट क्रिकेट

रिकी पोंटिंग और नासिर हुसैन ने दिया बयान, बोले- इन 3 देशों को आगे बढ़ानी होगी टेस्ट क्रिकेट

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग और इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने अपने बयान में कहा है कि इंग्लैंड, भारत और ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट क्रिकेट को और आगे बढ़ाना होगा और बाकी देश इससे सीखें।

रिकी पोंटिंग और नासिर हुसैन ने दिया बयान, बोले- इन 3 देशों को आगे बढ़ानी होगी टेस्ट क्रिकेट
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 01 Aug 2023 12:05 PM
ऐप पर पढ़ें

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच रोमांचक एशेज सीरीज हुई। पांच मैचों की ये सीरीज 2-2 की बराबरी पर समाप्त हुई। पहले दो मैच ऑस्ट्रेलिया ने जीते और आखिर में दो मैच इंग्लैंड ने जीते। चौथा मैच ड्रॉ रहा था। बावजूद इसके ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग और इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि इस सीरीज से सभी समस्याओं का समाधान नहीं है। उनका कहना है कि दुनिया में इसे बढ़ाने के लिए 'टॉप 3', इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारत को टेस्ट क्रिकेट के लिए और अधिक प्रयास करने की आवश्यकता है। 

स्काई स्पोर्ट्स पर नासिर हुसैन ने कहा, "शीर्ष तीन... शीर्ष तीन में से दो इंग्लैंड, भारत और ऑस्ट्रेलिया, वे सफल रहे हैं। वे लगातार सफल होते रहेंगे। तो वे तीनों आपको आगे बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उन्हें बाकी लोगों पर भी नजर रखनी होगी। यह सिर्फ शीर्ष तीन के बारे में नहीं है। 'हेडिंग्ले में मेरा बड़ा पल' कमेंट्री पर मेरे लिए यह कहना सब ठीक है और अच्छा है। एशेज जीवित है। टेस्ट क्रिकेट जीवित है। दुनिया के अन्य हिस्सों पर नजर डालें तो टेस्ट क्रिकेट इतनी जीवंत नहीं है।"

उन्होंने आगे कहा, "हां, हमने जो हासिल किया है उस पर हमें गर्व है। ऑस्ट्रेलिया और भारत ने जो हासिल किया है, वह बड़ी बात है, लेकिन अगर हम महीने-दर-महीने, साल-दर-साल सिर्फ भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ही हासिल करते रहें तो यह सुस्त होगा।" रिकी पोंटिंग ने भी हुसैन के इस बयान का समर्थन किया और कहा कि दुनिया भर के हर बोर्ड को टेस्ट क्रिकेट को और अधिक रोमांचक बनाने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

ऑस्ट्रेलिया के लिए बुरी खबर, एशेज के आखिरी मैच में 2 दिग्गज खिलाड़ी हुए चोटिल

पोंटिंग ने कहा, "मुझे लगता है कि मूल बात यह है कि हर बोर्ड, हर एसोसिएशन, हर टीम उस स्तर की क्रिकेट हासिल करने की इच्छा रखती है जो यहां खेला गया है। आखिरी चीज जो आप देखना चाहते हैं वह है टेस्ट मैच बोरिंग ड्रॉ से ऊपर आने चाहिए। मुझे लगता है कि जहां तक ​​टेस्ट क्रिकेट का सवाल है कि अगर आपको चार वनडे मैच खेल सकते हैं तो एक टेस्ट मैच भी खेल सकते हैं। मुझे लगता है कि हर टीम, हर कप्तान, हर कोच इससे कुछ सीख सकता है। वह इस दृष्टिकोण को अपना सकता है और टेस्ट क्रिकेट को और अधिक रोमांचक बनाने के लिए उपयुक्त खिलाड़ियों को चुन सकता है।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें