DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

RCBvCSK: हार के बाद ऐसे निकला धौनी का गुस्सा, इन्हें ठहराया जिम्मेदार

इसके अलावा धौनी ने टीम के टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों को खरी खोटी भी सुनाई। धौनी खुद 48 गेंद पर 84 रन बनाकर नॉटआउट लौटे, लेकिन टीम को जीत दिलाने में नाकाम रहे।

virat kohli and ms dhoni  photo credit  bcci

RCB vs CSK IPL 2019: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स को रविवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ एक रन से हार का सामना करना पड़ा। मैच के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने इस हार के लिए टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों को जिम्मेदार ठहराया। इसके अलावा धौनी ने टीम के टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों को खरी खोटी भी सुनाई। धौनी खुद 48 गेंद पर 84 रन बनाकर नॉटआउट लौटे, लेकिन टीम को जीत दिलाने में नाकाम रहे।

मैच के बाद उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है यह अच्छा मैच रहा। हमने सच में अच्छी गेंदबाजी की और उन्हें एवरेज स्कोर से कम पर रोक दिया। लेकिन हमें टॉप ऑर्डर में कुछ अच्छी बल्लेबाजी की जरूरत थी। अगर आपको पता है कि विरोधी टीम का अटैक कैसा है तो आपको अपनी रणनीति पर बने रहना चाहिए। अगर आप बहुत सारे विकेट गंवा देते हैं तो ऐसे में दबाव मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों पर पड़ जाता है। ऐसे में मिडिल ऑर्डर का बल्लेबाज आते ही अटैकिंग शॉट नहीं खेल पाता है। हमें देखना होगा कि हमें किस एरिया में कब कैसा रिस्क लेना है।'

धौनी ने कहा, 'मैच आखिरी में काफी मुश्किल हो गया था। विकेट थोड़ा स्पंजी था और नए बल्लेबाज के लिए आकर सेट होना आसान नहीं था। बाउंड्रीज की जरूरत थी और हां हम एक रन से हारे। लेकिन हमें साथ में यह सोचना होगा कि क्या होता अगर कुछ और डॉट्स गेंद हो जातीं या हमें कुछ एक्स्ट्रा बाउंड्री मिलती या नहीं मिलती। टीम में बहुत एक्सपीरियंस है। गेंदबाजों ने अपना काम अच्छे से किया। लेकिन बल्लेबाज नहीं कर सके। जब आप बल्लेबाजी के लिए जाते हैं तो आपको सोचना होता है कि किस चीज की ज्यादा जरूरत है बड़े शॉट्स खेलने की या साझेदारी बनाने की।'

RCBvCSK: मैच के बाद धौनी को लेकर ये क्या बोल गए विराट कोहली

DC vs KXIP: दिल्ली से हार के बाद कप्तान अश्विन ने टीम को दिया ये संदेश

धौनी ने आगे कहा, 'यह आसान होता है कि आप मैदान पर जाएं और बड़े शॉट्स खेलें भले ही आप आउट क्यों ना हो जाएं, क्योंकि कोई दूसरा आकर टीम को जीत दिला देगा। दिक्कत तब होती है जब बड़े शॉट खेलना चाहते हैं लेकिन आउट नहीं हो सकते क्योंकि आपके आउट होने से बाकी बल्लेबाजों पर दबाव और बढ़ जाएगा। हमें इस बात को कैलकुलेट करना होगा। इसलिए मुझे लगता है कि टॉप थ्री बल्लेबाज फिनिशर हो सकते हैं, उन्होंने ऐसा किया भी है। लेकिन जब आप 5, 6 या 7 नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं तो आपको कैलकुलेट करना पड़ता है कि आप अगर एक विकेट और गंवा देंगे तो मैच वहीं खत्म हो सकता है।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:RCB vs CSK virat kohli Chennai Super Kings M Chinnaswamy Stadium here is what MS Dhoni said about match