फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटरविंद्र जडेजा को महान बनाते हैं ये आंकड़े, बेन स्टोक्स और शाकिब अल हसन जैसे हरफनमौलों के छूट जाएंगे पसीने

रविंद्र जडेजा को महान बनाते हैं ये आंकड़े, बेन स्टोक्स और शाकिब अल हसन जैसे हरफनमौलों के छूट जाएंगे पसीने

अगर बात बल्लेबाजी की करें तो जडेजा ने घर में पिछले 5 सालों में 72 की शानदार औसत के साथ रन बनाए हैं। वहीं स्टोक्स और शाकिब के बल्ले से इस दौरान क्रमश: 43.2 और 32.2 की औसत से रन निकले हैं।

रविंद्र जडेजा को महान बनाते हैं ये आंकड़े, बेन स्टोक्स और शाकिब अल हसन जैसे हरफनमौलों के छूट जाएंगे पसीने
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 11 Feb 2023 07:32 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारतीय स्टार ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा ने क्रिकेट के मैदान पर 6 महीने बाद वापसी की। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी नागपुर टेस्ट में ऐसा लगा ही नहीं कि जडेजा पिछले आधे साल से क्रिकेट से दूर चल रहे थे। पहले उन्होंने बॉलिंग में शानदार परफॉर्मेंस देते हुए पंजा खोला, वहीं इसके बाद उन्होंने बल्लेबाजी में भी दमखम दिखाया। नागपुर टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक जडेजा अर्धशतक बनाकर बल्लेबाजी कर रहे हैं। उनकी इस पारी के दम पर टीम इंडिया ने मेहमानों पर 144 रनों की बढ़त हासिल कर ली है। ऑस्ट्रेलिया इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए मात्र 177 रनों पर ढेर हो गया था। भारत ने अपनी पहली पारी में अभी तक 7 विकेट के नुकसान पर 321 रन बना लिए हैं। रोहित शर्मा ने इस मुकाबले में शतक जरूर जड़ा, मगर इस मैच में रविंद्र जडेजा की अधिक चर्चा हो रही है।

WPL 2023: महिला आईपीएल में इस नाम से जानी जाएगी लखनऊ फ्रेंचाइजी, किया कोचिंग स्टाफ का खुलासा

जडेजा ने अपनी धाकड़ परफॉर्मेंस से बताया कि क्यों वह इतने लंबे समय से बाहर रहने के बावजूद टेस्ट रैंकिंग के पहले पायदान पर हैं। टेस्ट क्रिकेट में अकसर उनकी तुलना इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान बेन स्टोक्स और बांग्लादेश के हरफनमौला शाकिब अल हसन से होती रहती है। स्टोक्स हरफनमौलाओं की मौजूदा आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में तीसरे तौ शाकिब चौथे पायदान पर हैं। तो आईए आंकड़ों के जरिए समझते हैं जडेजा कैसे टेस्ट क्रिकेट में इन दोनों से बेहतर खिलाड़ी हैं-

इन तीनों खिलाड़ियों की तुलना करते हुए हमने पिछले 5 सालों के आंकड़े लिए हैं-

मुश्किल पिच पर रोहित शर्मा का ये जज्बा विक्रम राठौड़ को आया पसंद, बैटिंग कोच ने कहा- 'वह आसानी से रन बटोरते हैं लेकिन...'

सबसे पहले बात घर में इन तीनों खिलाड़ियों के परफॉर्मेंस की करते हैं। अगर बात बल्लेबाजी की करें तो जडेजा ने घर में पिछले 5 सालों में 72 की शानदार औसत के साथ रन बनाए हैं। यह औसत किसी पूर्ण बल्लेबाज को भी तालियां बजाने पर मजबूर कर देगा, वहीं बात स्टोक्स और शाकिब की करें तो उनके बल्ले से इस दौरान क्रमश: 43.2 और 32.2 की औसत से रन निकले। वहीं घर में गेंदबाजी में भी जडेजा इन दोनों से बेहतर रहे हैं। जडेजा का घर में बॉलिंग औसत 20 का रहा, वहीं स्टोक्स और शाकिब का क्रमश: 27 व 25 का रहा। इन आंकड़ों से यह तो साफ होता है कि जडेजा घर में इन दोनों खिलाड़ियों से पिछले 5 सालों में बेहतर हरफनमौला रहे हैं।

IND vs AUS: नागपुर टेस्ट के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़े चार सट्टेबाज, स्टेडियम से भेज रहे थे इंफॉर्मेशन

अब बाद विदेशी सरजमीं की करें तो जडेजा का बैटिंग और बॉलिंग औसत क्रमश: 36.4 और 32.6 का रहा है। वहीं स्टोक्स का 32.2 व 33.8 और शाकिब का 26.5 व 27.6 का रहा है। इन आंकड़ों में बस शाकिब का औसत विदेशी सरजमीं पर जडेजा से बेहतर रहा है। घर के बाहर भी जडेजा स्टोक्स से बेहतर ऑलराउंडर रहे हैं।