फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटरजत पाटीदार होंगे IND vs ENG 5वें टेस्ट से बाहर? केएल राहुल ने बढ़ाई चयनकर्ताओं की चिंता

रजत पाटीदार होंगे IND vs ENG 5वें टेस्ट से बाहर? केएल राहुल ने बढ़ाई चयनकर्ताओं की चिंता

चयनकर्ता रजत पाटीदार को उनकी खराब फॉर्म के चलते टीम से रिलीज करना चाहते हैं ताकि वह रणजी ट्रॉफी खेलकर फॉर्म हासिल कर सकते। पाटीदार ने अभी तक इस सीरीज में 32 के हाईएस्ट स्कोर के साथ 63 रन बनाए हैं।

रजत पाटीदार होंगे IND vs ENG 5वें टेस्ट से बाहर? केएल राहुल ने बढ़ाई चयनकर्ताओं की चिंता
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 07:21 AM
ऐप पर पढ़ें

बीसीसीआई चयन समिति और कप्तान रोहित शर्मा और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ के नेतृत्व वाला भारतीय टीम मैनेजमेंट इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम टेस्ट से पहले कुछ खिलाड़ियों को लेकर असमंजस में है। सीरीज का आखिरी मुकाबला 7 मार्च से धर्मशाला में खेला जाना है। इस टेस्ट मैच से पहले अभी काफी समय है, लेकिन केएल राहुल की फिटनेस ने भारतीय खेमे को चिंता में डाल दिया है। कई मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, राहुल अपने दाहिने क्वाड्रिसेप्स में असुविधा महसूस करने के बाद एक विशेषज्ञ से परामर्श करने के लिए लंदन गए हैं। चोट के कारण वह इंग्लैंड के खिलाफ पिछले तीन टेस्ट मैचों से बाहर रहे हैं।

WPL 2024 Points Table: मुंबई इंडियंस की पहली हार से आरसीबी को फायदा, पॉइंट्स टेबल में मारी बाजी

वहीं बीसीसीआई रजत पाटीदार को उनकी खराब परफॉर्मेंस के चलते रणजी ट्रॉफी के लिए उन्हें रिलीज करना चाहता है।

2 मार्च को बीसीसीआई इस पर फैसला ले सकता है जब टेस्ट स्क्वॉड के सभी खिलाड़ी चंडीगढ़ में इकट्ठा होंगे। बीसीसीआई ने तीसरे टेस्ट से पहले प्रेस रिलीज में बताया था कि राहुल 90 प्रतिशत फिट हैं, अगर वह पूरी फिटनेस हासिल करने में कामयाब रहते हैं तो पाटीदार स्क्वॉड से बाहर हो जाएंगे। वहीं अगर राहुल फिट नहीं हो पाते तो टीम मैनेजमेंट रजत पाटीदार के साथ ही जाएगा।

'वर्ल्ड कप के हीरो को धोखा', श्रेयस अय्यर को कॉन्ट्रैक्ट नहीं मिलने पर भड़के फैंस, रवि शास्त्री ने किया मोटिवेट

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, चयनकर्ता पाटीदार को भारत की टेस्ट टीम से रिलीज करना चाहते हैं ताकि वह 2 मार्च को विदर्भ के खिलाफ मध्य प्रदेश के लिए रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल खेल सकें। पाटीदार सीरीज में अब तक मिले मौकों का फायदा नहीं उठा पाए हैं। छह पारियों में उनका 32 के हाइएस्ट स्कोर के साथ 63 ही रन बनाए है और वह पहले ही दो बार शून्य पर आउट हो चुके हैं। बल्लेबाजी के लिए अनुकूल नंबर 4 स्थान मिलने के बावजूद जिस तरह से उन्होंने कुछ मौकों पर अपना विकेट फेंका है, उसने चयनकर्ताओं को चिंतित कर दिया है।

अगर राहुल समय पर अपनी फिटनेस हासिल कर लेते हैं तो टीम प्रबंधन को पाटीदार को टीम में रखने का कोई मतलब नहीं दिखता। 

एक सूत्र ने बताया “आदर्श रूप से, टीम प्रबंधन चाहता है कि पाटीदार रणजी सेमीफाइनल खेलने जाएं और कुछ फॉर्म हासिल करें। लेकिन यह राहुल की उपलब्धता पर निर्भर करेगा। यदि राहुल अनुपलब्ध हैं तो उन्हें टीम के साथ रुकने के लिए कहा जा सकता है। भले ही देवदत्त पडिक्कल को डेब्यू का मौका क्यों ना मिले। दरअसल, टीम प्रबंधन को कन्कशन विकल्प के रूप में टीम में एक अतिरिक्त बल्लेबाज की जरूरत है।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें