DA Image
11 जुलाई, 2020|8:18|IST

अगली स्टोरी

2007 वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद राहुल द्रविड़ ने इरफान-धोनी से कही थी यह बात 

25 टेस्ट और 79 वनडे में कप्तानी करने वाले राहुल द्रविड़ के बारे में इरफान ने कहा कि 2007 के वर्ल्ड कप में टीम के बाहर हो जाने के बाद द्रविड़ ने ही धोनी और पूरी टीम का मनोबल बढ़ाया था।

irfan pathan  ms dhoni  rahul dravid  getty images

टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान ने 2007 के वर्ल्ड कप में भारत के जल्दी बाहर हो जाने के बाद टीम मे कैसा माहौल था, इस बारे में हाल ही में बात की। उन्होंने कहा कि हम पहले तीन मैचों में से दो हार गए थे। श्रीलंका और वेस्टइंडीज के खिलाफ हार ने टीम इंडिया के अभियान पर विराम लगा दिया था। जाहिर है इसने ड्रेसिंग रूम में निराशा का माहौल बना दिया था। तब सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग संन्यास को लेकर बातें करने लगे थे। इस दौरान राहुल द्रविड़ थे कि जिन्होंने धोनी और हम सबका मनोबल बढ़ाया था। 

25 टेस्ट और 79 वनडे में कप्तानी करने वाले राहुल द्रविड़ के बारे में इरफान ने कहा कि 2007 के वर्ल्ड कप में टीम के बाहर हो जाने के बाद द्रविड़ ने ही धोनी का मनोबल बढ़ाया था। उन्होंने कहा, ''विश्व कप 2007 में बाहर होने के तीन दिन बाद हम सब कमरे के बाहर हताश बैठे थे। तब द्रविड़ ने हमें बुलाया और हम सब 300 नाम की मूवी देखने के लिए गए।''

लॉकडाउन के बाद क्या है महेंद्र सिंह धोनी का प्लान, पत्नी साक्षी ने बताया

द्रविड़ ने ऐसे बढ़ाया था इरफान-धोनी का हौसला
उन्होंने आगे कहा, ''कुछ समय बाद द्रविड़ ने मुझसे कहा कि यह दुनिया का अंत नहीं है। आपने बहुत क्रिकेट खेला है और भविष्य में भी खेलोगे। यह बुरा हुआ कि हम हार गए। तुम्हें और धोनी को अभी भारत के लिए बहुत क्रिकेट खेलना है। राहुल के शब्दों से हमें लगा कि हम मरे नहीं बल्कि जीवित हैं।''

इरफान ने द्रविड़ को बताया फेवरेट कप्तान
वर्ल्ड कप 2007 में टीम के बाहर होने के बाद राहुल द्रविड़ की कप्तानी के बारे में ज्यादा बातें नहीं की गई। बावजूद इसके कि उनकी कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड में 21 साल बाद सीरीज जीती थी और दक्षिण अफ्रीका में 2006 में पहला टेस्ट जीता था। उनके नेतृत्व में एक समय भारत ने रनों का पीछा करते हुए लगातार 17 मैच जीते थे। इन सारी चीजों के मद्देनजर इरफान ने राहुल द्रविड़ का अपना पसंदीदा भारतीय कप्तान बताया।

साक्षी धोनी ने बताया, इन दिनों नींद में पबजी के बारे में बात करते हैं धोनी

मुझे राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में खेलना प्रिय था
उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी, अनिल कुंबले और सौरव गांगुली के मुकाबले राहुल द्रविड़ को चुना। इरफान ने इंस्टाग्राम लाइव चैट सेशन में कहा, ''बहुत से लोग जानते हैं कि दादा मेरे पहले कप्तान थे। अनिल कुंबले ने टीम का नेतृत्व बहुत ज्यादा नहीं किया। धोनी ने क्रिकेट में सब कुछ हासिल किया। लेकिन मुझे राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में खेलना प्रिय था, क्योंकि उनके नेतृत्व में आपसी संवाद बेहतर था।''  उन्होंने आगे कहा, ''लोग अक्सर राहुल द्रविड़ की कप्तानी की बात नहीं करते। वे नहीं जानते कि द्रविड़ के नेतृत्व में टीम ने रनों का पीछा करते हुए रिकॉर्ड जीत हासिल की।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rahul Dravid lifted MS Dhoni and Irfan Pathan spirits after 2007 World Cup exit