DA Image
6 जुलाई, 2020|11:33|IST

अगली स्टोरी

राशिद लतीफ ने बताया 1996 में शारजाह ODI में आउट नहीं थे राहुल द्रविड़, मुश्ताक अहमद की अपील पर अंपायर ने दिया था आउट

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ ने द्रविड़ की जमकर तारीफ की है। इस दौरान उन्होंने 1996 में शारजाह में खेले गए एक वनडे इंटरनैशनल मैच का जिक्र किया है, जिसमें द्रविड़ को गलत आउट दिया गया था।

rahul dravid  file photo

टीम इंडिया में कुछ ऐसे क्रिकेटर्स हुए हैं, जिन्होंने ऑन द फील्ड और ऑफ द फील्ड अपने अच्छे बर्ताव के लिए काफी सुर्खियां बटोरी हैं। इसमें मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के साथ पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का नाम भी शामिल है। द्रविड़ मैदान पर और मैदान के बाहर अपने शांत स्वभाव के लिए जाने जाते हैं। द्रविड़ को गुस्से में बहुत कम लोगों ने देखा है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ ने द्रविड़ की जमकर तारीफ की है। इस दौरान उन्होंने 1996 में शारजाह में खेले गए एक वनडे इंटरनैशनल मैच का जिक्र किया है, जिसमें द्रविड़ को गलत आउट दिया गया था।

क्रिकेट की वापसी के लिए ECB तैयार, 55 क्रिकेटर्स शुरू करेंगे प्रैक्टिस

द्रविड़ ऐसे बल्लेबाज रहे हैं, जो अंपायर के गलत फैसले पर बिना किसी बहस के मैदान छोड़कर चले जाते थे। लतीफ ने बताया कि 1996 में शारजाह में पहला वनडे इंटरनेशनल मैच भारत और पाकिस्तान के बीच खेला जा रहा था। द्रविड़ के करियर का यह महज तीसरा वनडे इंटरनेशनल मैच था। मुश्ताक अहमद की गेंद पर द्रविड़ को कॉट बिहाइंड आउट दिया गया था। लतीफ ने इस किस्से को सुनाते हुए कहा, 'वो हमारे खिलाफ शारजाह में खेल रहे थे। द्रविड़ विकेट के पीछे कैच आउट हुए थे, मुश्ताक अहमद ने गेंद फेंकी और जोरदार अपील की, हमने भी उनके साथ अपील की। अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया। मैच के बाद द्रविड़ ने मुझसे पूछा कि क्या मैं आउट था, मैंने उन्हें कहा, नहीं भाई, मुश्ताक तंग करता है बहुत।'

संगाकारा ने बताया, क्यों वर्ल्ड कप 2011 के फाइनल में हुआ था 2 बार

'द्रविड़ और गांगुली दोनों शानदार खेले थे'

द्रविड़ उस मैच में तीन रन पर आउट हो गए थे। पाकिस्तान के 272 रनों के जवाब में टीम इंडिया 233 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। आमिर सोहैल की कप्तानी में पाकिस्तान ने वो मैच अपने नाम कर लिया था। लतीफ ने सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ के डेब्यू टेस्ट के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा, 'दोनों राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली ने अपना डेब्यू टेस्ट इंग्लैंड में खेला था और उस समय हम लोग भी इंग्लैंड में ही थे। 1996 की बात है, हम सबको प्रधानमंत्री ने लंच पर एकसाथ बुलाया था, वहां मैं दोनों से मिला था। दोनों ने शानदार खेल दिखाया था।'

'राहुल क्रिकेट खेलने के लिए ही पैदा हुए'

गांगुली ने अपने डेब्यू टेस्ट में 131 रन बनाए थे, जबकि द्रविड़ 95 रनों पर आउट हुए थे, लॉर्ड्स के मैदान पर खेला गया वो टेस्ट मैच ड्रॉ हुआ था। द्रविड़ की तारीफ करते हुए लतीफ ने कहा, 'वो एक शानदार व्यक्ति हैं। यूनिस खान भी बता चुके हैं कि कैसे राहुल द्रविड़ ने उनकी मदद की और उनके गेम को सुधारा। उनके पास शानदार क्रिकेटिंग दिमाग था, वो क्रिकेट खेलने के लिए ही पैदा हुए थे। उन्होंने इंडिया-ए, अंडर-19 टीम को तैयार किया है।'
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rahul Dravid asked me Was I Out I said no Brother Rashid Latif recalled 1996 Sharjah 1st ODI