फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटअफगानिस्तान के खिलाफ मिली हार के बाद इमोशनल हो गए थे बाबर आजम, रहमानुल्लाह गुरबाज ने कहा- वो रोने वाले थे

अफगानिस्तान के खिलाफ मिली हार के बाद इमोशनल हो गए थे बाबर आजम, रहमानुल्लाह गुरबाज ने कहा- वो रोने वाले थे

रहमानुल्लाह गुरबाज ने एक इंटरव्यू के दौरान खुलासा किया है कि पाकिस्तान के पूर्व कप्तान बाबर आजम विश्व कप में अफगानिस्तान के खिलाफ मुकाबला हारने के बाद रोने वाले थे। अफगानिस्तान ने पाक को हराया था।

अफगानिस्तान के खिलाफ मिली हार के बाद इमोशनल हो गए थे बाबर आजम, रहमानुल्लाह गुरबाज ने कहा- वो रोने वाले थे
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 07 Dec 2023 01:11 PM
ऐप पर पढ़ें

अफगानिस्तान के विकेटकीपर रहमानुल्लाह गुरबाज ने विश्व कप 2023 के दौरान बाबर आजम के साथ उनकी मुलाकात से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा शेयर किया है। बाबर आजम ने अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच हुए मुकाबले के बाद गुरबाज को एक बैट गिफ्ट दिया था। चेन्नई में खेले गए इस मैच में अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को आठ विकेट से हराया था। गुरबाज ने 53 गेंद में 65 रन की दमदार पारी खेली थी। इस दौरान उन्होंने नौ चौके और एक छक्का लगाया। 

सलामी बल्लेबाज रहमानुल्लाह गुरबाज ने कहा कि मुलाकात के दौरान बाबर आजम इतने इमोशनल हो गए थे कि रोने ही वाले थे। हालांकि गुरबाज ने बाबर की हिम्मत की भी तारीफ की, जोकि भारत में हुए टूर्नामेंट के दौरान आलोचनाओं का सामना करने के बावजूद डटकर खड़े रहे।

रहमानुल्लाह गुरबाज ने कहा, ''बाबर आजम के बारे में उस वक्त को मैं कभी भुला नहीं पाऊंगा। हमने पाकिस्तान को हराया और फिर मैंने उनसे बल्ला मांगा। जब वह बल्ला लेकर आए, वह काफी निराश थे और बतौर खिलाड़ी मैं ये महसूस कर सकता हूं। मैं जानता हूं जब आप मैच हारते हैं, खासकर इस तरह की परिस्थितियों में, वह काफी दबाव में था।''

India vs South Africa : साउथ अफ्रीका पहुंचते ही ट्रॉली सिर पर रखकर भागे भारतीय खिलाड़ी, जानिए क्यों?

उन्होंने आगे कहा, ''मुझे याद है कि हम भी इमोशनल हो गया था। वह सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों  और कप्तानों में से एक है। विश्वास करो मेरा, मैं कैमरे के सामने ये नहीं कहना चाह रहा हूं, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि वह रोने वाला था। वह बहुत निराश था और मैंने इस तरह का खिलाड़ी नहीं देखा। हर कोई उसके खिलाफ था। लेकिन मैं बाबर भाई को सैल्यूट करता हूं, वह बहुत मजबूत थे और आगे बढ़ रहे थे। उन्होंने कभी हार नहीं मानी।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें