फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटआर अश्विन तीसरे टेस्ट मैच से हटे, फैमिली इमरजेंसी के कारण छोड़ा टीम का साथ

आर अश्विन तीसरे टेस्ट मैच से हटे, फैमिली इमरजेंसी के कारण छोड़ा टीम का साथ

राजकोट में जारी तीसरे टेस्ट मैच के बीच से रविचंद्रन अश्विन को हटना पड़ा है। फैमिली इमरजेंसी के कारण उन्होंने ये फैसला लिया है। शुक्रवार को 500 विकेट लेने वाले अश्विन को लेकर BCCI ने बयान जारी किया है।

आर अश्विन तीसरे टेस्ट मैच से हटे, फैमिली इमरजेंसी के कारण छोड़ा टीम का साथ
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 16 Feb 2024 11:09 PM
ऐप पर पढ़ें

फैमिली मेडिकल इमरजेंसी के कारण भारतीय टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने तत्काल प्रभाव से टेस्ट टीम से नाम वापस ले लिया है। वे राजकोट के निरंजन शाह क्रिकेट स्टेडियम में जारी तीसरे इंडिया वर्सेस इंग्लैंड टेस्ट मैच में भी आगे भाग नहीं ले पाएंगे। आर अश्विन ने शुक्रवार की दोपहर को अपना 500वां टेस्ट विकेट लिया था और इसके कुछ ही घंटों के बाद उनको फैमिली इमरजेंसी की वजह से टेस्ट टीम का साथ छोड़ना पड़ा है। बीसीसीआई ने खुद इसकी जानकारी दी है।

बीसीसीआई के सचिव जय शाह की ओर से आई मीडिया रिलीज में कहा गया है कि इस चुनौतीपूर्ण समय में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और पूरी टीम अश्विन का पूर्ण समर्थन करती है। बीसीसीआई चैंपियन क्रिकेटर और उनके परिवार को अपना सपोर्ट देती है। खिलाड़ियों और उनके प्रियजनों का स्वास्थ्य और भलाई अत्यंत महत्वपूर्ण है। बोर्ड अश्विन और उनके परिवार की निजता का सम्मान करने का अनुरोध करती हैं, क्योंकि वे इस चुनौतीपूर्ण समय से गुजर रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दी आर अश्विन को बधाई, टेस्ट क्रिकेट में चटकाए हैं 500 विकेट

जैसा कि बीसीसीआई ने अपने बयान में कहा है कि परिवार की निजता का सम्मान किया जाए। ऐसे में किसी भी तरह का कयास लगाना गलत होगा कि उनके परिवार में क्या समस्या हुई है। हालांकि, टीम इंडिया के लिए ये झटका है, क्योंकि वे इस टेस्ट में आगे भाग नहीं ले पाएंगे और टीम इंडिया को एक प्रीमियर ऑफ स्पिनर की कमी खलेगी, क्योंकि उनकी जगह कोई खिलाड़ी फील्डिंग तो कर सकता है, लेकिन गेंदबाजी या बल्लेबाजी उनकी जगह कोई नहीं करेगा। 

क्रिकेट के नियम ही कुछ इस तरह के हैं कि सिर्फ कनकशन के तौर पर आपको सब्सटीट्यूट मिल सकता है, लेकिन बाकी किसी भी तरह से आपकी जगह कोई अन्य खिलाड़ी बैटिंग और बॉलिंग नहीं कर सकता है। मैच के दौरान अन्य किसी भी प्रकार की गंभीर चोट के लिए आपको सिर्फ और सिर्फ फील्डर मिलता है। ऐसे में अब भारत के पास दो तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज और दो स्पिनर कुलदीप यादव और रविंद्र जडेजा हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें