फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIND vs AUS: टीम इंडिया के ब्रिसबेन ना जाने को लेकर क्वींसलैंड सरकार का बड़ा बयान, कहा- अगर नियम के हिसाब से नहीं खेलना तो मत आइए

IND vs AUS: टीम इंडिया के ब्रिसबेन ना जाने को लेकर क्वींसलैंड सरकार का बड़ा बयान, कहा- अगर नियम के हिसाब से नहीं खेलना तो मत आइए

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का चौथा टेस्ट मैच ब्रिसबेन में खेला जाना है, लेकिन कोविड-19 प्रोटोकॉल और क्वारंटाइन की पाबंदियों को देखते हुए टीम इंडिया ब्रिसबेन नहीं जाना चाहती है। टीम ने साफ...

IND vs AUS: टीम इंडिया के ब्रिसबेन ना जाने को लेकर क्वींसलैंड सरकार का बड़ा बयान, कहा- अगर नियम के हिसाब से नहीं खेलना तो मत आइए
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSun, 03 Jan 2021 03:58 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का चौथा टेस्ट मैच ब्रिसबेन में खेला जाना है, लेकिन कोविड-19 प्रोटोकॉल और क्वारंटाइन की पाबंदियों को देखते हुए टीम इंडिया ब्रिसबेन नहीं जाना चाहती है। टीम ने साफ किया है कि वह दोबारा बायो बबल में रहने को लेकर किसी भी कीमत पर तैयार नहीं है। इसके अलावा, भारतीय टीम ने सुझाव देते हुए कहा कि वह सीरीज के बचे दोनों ही टेस्ट मैचों को एक शहर में ही खेलन को तैयार है। इसी बीच, क्वींसलैंड सरकार भारत के फैसले से नाखुश नजर आई है और उन्होंने टीम इंडिया को साफ शब्दों में कह दिया है कि अगर नियम के हिसाब से नहीं खेलना है तो मत आइए।

क्वींसलैंड सरकार ने बयान जारी करते हुए कहा कि अगर टीम इंडिया नियमों के मुताबिक नहीं खेलना चाहती है, तो उनको यहां आने की जरूरत नहीं है। राज्य की हेल्थ मिनिस्टर रोस बेट्स ने ऑस्ट्रेलिया के एक चैनल से बात करते हुए कहा, 'अगर इंडियन्स नियमों के अनुसार नहीं खेलने चाहते हैं तो मत आएं।' इसके बाद क्वींसलैंड के स्पोर्ट्स मिनिस्टर टिम मेंडर ने भी बेट्स की बात पर हामी भरते हुए कहा, 'अगर इंडियन क्रिकेट टीम क्वांरटाइन के नियम और गाइडलाइंस को फॉलो नहीं करना चाहती है, तो उनको यहां नहीं आना चाहिए। एक जैसे रूल्स लागू होंगे सभी पर। सिंपल।' 

गावस्कर ने बताया, इस वजह से फॉर्म से जूझ रहे हैं मयंक अग्रवाल

इससे पहले, टीम इंडिया के एक सूत्र ने 'क्रिकबज' से बातचीत करते हुए कहा था, 'अगर आप देखें, हम 14 दिन दुबई में क्वारंटाइन थे सिडनी पहुंचने से पहले और फिर 14 दिन क्वारंटाइन में रहे। इसका मतलब है कि हम लगभग एक महीने के काफी कड़े बबल में रहे, बाहर आने से पहले। हम जो नहीं चाहते हैं वह है दोबारा से क्वारंटाइन टूर के खत्म होने पर।' भारत की टीम इस समय मेलबर्न में मौजूद है और दोनों ही टीमें तीसरे टेस्ट के लिए सोमवार को सिडनी के लिए रवाना होंगी।