फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटपंजाब ने पहली बार जीता सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का खिताब, 19वें ओवर में अर्शदीप सिंह ने पलटी बाजी

पंजाब ने पहली बार जीता सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का खिताब, 19वें ओवर में अर्शदीप सिंह ने पलटी बाजी

मंदीप सिंह की अगुवाई वाली पंजाब की टीम ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2023 के फाइनल मुकाबले को 20 रनों से जीतकर पहली बार यह खिताब अपने नाम किया। पंजाब इससे पहले चार फाइनल हारी थी।

पंजाब ने पहली बार जीता सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का खिताब, 19वें ओवर में अर्शदीप सिंह ने पलटी बाजी
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 06 Nov 2023 08:49 PM
ऐप पर पढ़ें

Syed Mushtaq Ali Trophy 2023 Final: मंदीप सिंह की अगुवाई वाली पंजाब की टीम ने सोमवार शाम सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले को 20 रनों से जीतकर पहली बार यह खिताब अपने नाम किया। पंजाब की टीम इससे पहले चार बार सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची थी, मगर कभी खिताब उठाने में सफल नहीं रही। यह पहला मौका है जब उनके हाथ सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी लगी है। खिताबी मुकाबले में पंजाब की जंग क्रुणाल पांड्या की बड़ौदा से थी। इस मैच में दोनों टीमों ने 200 रनों का आंकड़ा पार किया और कुल 426 रन बने। पंजाब की जीत के हीरो अनमोलप्रीत सिंह और अर्शदीप सिंह रहे। अनमोलप्रीत ने पहली पारी में शतक जड़ 113 रन बनाए। वहीं अर्शदीप ने अपने 4 ओवर के कोटे में मात्र 23 रन खर्च कर 4 विकेट लिए। अर्शदीप का 19वां ओवर मैच का टर्निंग पॉइंट रहा। हालांकि अनमोलप्रीत सिंह को उनकी लाजवाब पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया।

स्टीव स्मिथ की भविष्यवाणी, वर्ल्ड कप 2023 सेमीफाइनल में इन 2 टीमों को हराना बेहद मुश्किल

पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अनमोलप्रीत सिंह के शतक के दम पर बड़ौदा के सामने जीत के लिए 224 रनों का लक्ष्य रखा था, इस स्कोर का पीछा करते हुए बड़ौदा ने 18 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 191 रन बोर्ड पर लगा दिए थे। उस समय ऐसा लग रहा था कि बड़ौदा की टीम इस मैच को आसानी से जीत जाएगी। क्रुणाल पांड्या 45 तो विष्णु सोलंकी 7 गेंदों पर 25 रन बनाकर खेल रहे थे। विष्णु ने 18वें ओवर में सिद्धार्थ कौल की धुनाई करते हुए 3 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 24 रन बटोरे थे।

हिट विकेट, LBW से लेकर टाइम आउट तक...जानें इंटरनेशनल क्रिकेट में कब और कैसे पहली बार आउट हुए बल्लेबाज

हालांकि अर्शदीप सिंह ने 19वें ओवर में तीन विकेट लेकर बाजी ही पलट दी। इस ओवर में उन्होंने 2 वाइड समेत कुल चार रन खर्च कर तीन विकेट चटकाए। इन तीन विकेट में क्रुणाल पांड्या का अहम विकेट भी शामिल था। अर्शदीप के कमाल के ओवर के बाद बड़ौदा दबाव में आ गया था क्योंकि आखिरी ओवर में उन्हें 29 रनों की दरकार थी। हरप्रीत बरार ने इस दौरान मात्र 8 रन खर्च कर विष्णु का विकेट भी चटकाया और अपनी टीम को पहली बार चैंपियन बनाया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें