फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटबाबर आजम को घरेलू क्रिकेट में लेना पड़ सकता है हिस्सा, जानिए क्या है कि इसके पीछे PCB का प्लान

बाबर आजम को घरेलू क्रिकेट में लेना पड़ सकता है हिस्सा, जानिए क्या है कि इसके पीछे PCB का प्लान

बाबर आजम को घरेलू क्रिकेट में खेलने के लिए मजबूर किया जा सकता है, क्योंकि बोर्ड चाहता है कि वे खुद युवा खिलाड़ियों घरेलू क्रिकेट से सिलेक्ट करें, क्योंकि टीम से आधा दर्जन खिलाड़ियों की छुट्टी होने वाल

बाबर आजम को घरेलू क्रिकेट में लेना पड़ सकता है हिस्सा, जानिए क्या है कि इसके पीछे PCB का प्लान
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 19 Jun 2024 10:15 AM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान की टीम और टीम के कप्तान बाबर आजम की खूब आलोचना हो रही है, क्योंकि टीम टी20 वर्ल्ड कप 2024 के सुपर 8 में नहीं पहुंच पाई। टीम चार में से दो मुकाबले हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई। इसके अलावा कप्तान बाबर आजम की फॉर्म भी अच्छी नहीं है। ऐसे में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड चाहता है कि बाबर आजम अगले महीने जुलाई में डोमेस्टिक क्रिकेट में हिस्सा लें। इसके पीछे का कारण पीसीबी ने बताया है कि बाबर आजम घरेलू क्रिकेट खेलकर नए और युवा टैलेंटेड खिलाड़ियों पर नजर रख सकते हैं। इसके अलावा वे खुद अपनी फॉर्म को सुधार सकते हैं। 

पाकिस्तानी मीडिया की मानें तो पीसीबी चाहती है कि बाबर आजम युवा खिलाड़ियों के साथ खेलें और प्रत्येक मैच में उनके प्रदर्शन का आकलन करें और उनमें से सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का चयन करें जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करेंगे। पीसीबी मौजूदा टीम से 7-8 खिलाड़ियों को हटाना चाहता है। हालांकि, अभी तक पीसीबी ने बाबर को कप्तानी से नहीं हटाया है। ऐसे में यह उन पर निर्भर है कि वे आगे कप्तानी करना जारी रखेंगे या नहीं? लेकिन एक बात है कि पीसीबी को उन पर भरोसा है कि वे घरेलू क्रिकेट से खिलाड़ियों को चुनें।

हारिस राउफ के साथ बदतमीजी करने वाले फैन के खिलाफ ऐक्शन लेगा पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड, अगर उसने...

अगर बाबर आजम कप्तानी से इस्तीफा भी दे देते हैं, तो भी पीसीबी की पहली पसंद बाबर आजम ही युवा खिलाड़ियों को चुनने के लिए होंगे, क्योंकि वही एकमात्र महान खिलाड़ी टीम के लिए मौजूदा समय में हैं। बाबर आजम अगले 2 हफ्तों में कप्तानी जारी रखने या नहीं रखने के बारे में अपना फैसला सुनाएंगे, लेकिन यह बिल्कुल स्पष्ट है कि टीम के चयन में बाबर का प्रभाव अभी भी सक्रिय रहेगा, भले ही वह कप्तान न हों। हालांकि, अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि टी20 वर्ल्ड कप 2024 के बाद किस-किस खिलाड़ी का पत्ता कटने वाला है।