DA Image
30 जून, 2020|12:16|IST

अगली स्टोरी

टीम इंडिया और आरसीबी के कप्तान विराट कोहली में क्या है फर्क, पार्थिव पटेल ने बताया

पार्थिव पटेल ने कहा, ''मुझे लगता है कि कोहली टीम इंडिया की कप्तानी करते समय ज्यादा आक्रामक होते हैं बजाय आरसीबी की कप्तानी के।''

parthuv patel and virat kohli for royal challengers bangalore  ipl

भारतीय अनुभवी क्रिकेटर पार्थिव पटेल उन खिलाड़ियों में हैं, जिन्होंने सौरव गांगुली के नेतृत्व में डेब्यू किया। फिर महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में क्रिकेट खेला और मौजूदा कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) की तरफ से खेल रहे हैं। ऐसे में पार्थिव पटेल इन तीनों कप्तानों की शैली के बारे में बेहतर बता सकते हैं। विराट की कप्तानी में पार्थिव टीम इंडिया और आरसीबी दोनों की तरफ से खेले हैं। ऐसे में उन्होंने विराट कोहली के टीम इंडिया का कप्तान और आरसीबी का कप्तान होने के फर्क के बारे में बताया है। 

आकाश चोपड़ा के शो 'आकाशवाणी' यूट्यूब चैनल पर उन्होंने कहा, ''कई बार कप्तान की आक्रामकता इस बात पर निर्भर करती है कि उनकी टीम में कैसे खिलाड़ी हैं। जब आप विराट कोहली को टीम इंडिया की कप्तानी करते देखते हैं तो आप उन्हें एकदम अलग पाएंगे। उनके पास बुमराह, शमी और अच्छे स्पिनर हैं, लेकिन रॉयल चैंलेंजर्स बैंगलोर की कप्तानी करते समय उनके पास सीमित विकल्प हैं। ऐसे में वह कोशिश करते हैं कि टीम अपनी क्षमताओं के साथ परफॉर्म करें।''

केन विलियमसन ने बताया, न्यूजीलैंड और IPL टीम की कप्तानी में क्या है फर्क

उन्होंने आगे कहा, ''टीम कहां खेल रही है, यह बात भी अहमियत रखती है। यदि पिच से मदद मिल रही है तब आपको रक्षात्मक होना पड़ता है।'' पार्थिव ने कहा, ''मिसाल के तौर पर यदि हम विपक्षी टीम को 180-190 तक रोक लेते हैं तो हम मैच जीत सकते हैं, लेकिन यदि हम 220 रनों के खिलाफ आक्रामकता दिखाते हैं तो हम गेम से बाहर हो जाते हैं। लिहाजा मुझे लगता है कि कोहली टीम इंडिया की कप्तानी करते समय ज्यादा आक्रामक होते हैं बजाय आरसीबी की कप्तानी के।''

पार्थिव ने इस दौरान  कोहली, रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह  धोनी की शैलियों के बारे में कहा, ''मुझे लगता है कि धोनी हर खिलाड़ी की क्षमता को जानते हैं। वह यह भी जानते हैं कि किस खिलाड़ी से कितना निकलवाया जा सकता है। हम 100 प्रतिशत की बात करते हैं, लेकिन हर खिलाड़ी का 100 प्रतिशत स्तर अलग होता है।''

'2007 टी20 वर्ल्ड कप में धोनी का मंत्र था- टेंशन मत लो, टेंशन दो'

उन्होंने कहा, ''रोहित अच्छी योजना बनाते हैं। वह प्राप्त सूचनाओं का भरपूर इस्तेमाल करते हैं, वह यह भी देखते हैं कि कौन सा खिलाड़ी किस भूमिका में फिट बैठता है। मूल्यांकन में उन्हें महारथ हासिल है। पिछले कुछ सालों में उन्होंने  बहुत इंप्रूव भी किया है। खिलाड़ियों को मैनेज करने में धोनी और रोहित बहुत अच्छे हैं।''

पार्थिव पटेल ने आगे बताया, ''विराट कोहली का कप्तानी स्टाइल अलग है। वह हर समय आगे बढ़कर नेतृत्व करते हैं। वह हमेशा आक्रामक होते हैं। यह उनकी शैली है जो उन्हें सूट करती है। धोनी और रोहित ड्रेसिंग रूम को शांत रखते हैं जबकि विराट खिलाड़ियों को पंजों के बल खड़ा रखते हैं।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Parthiv Patel explains the difference between India captain Virat Kohli vs RCB captain Virat Kohli