फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटइस बार तो हद ही कर दी...पाकिस्तान सुपर लीग में फिर उड़ा टेक्नोलॉजी का मजाक

इस बार तो हद ही कर दी...पाकिस्तान सुपर लीग में फिर उड़ा टेक्नोलॉजी का मजाक

PSL 2024 के 16वें मैच में जब क्वेटा ग्लेडियेटर्स को आखिरी ओवर में जीत के लिए 2 गेंदों पर 3 रनों की दरकार थी तो उनका विन पर्सेंटेज 101 का था, वहीं कराची किंग्स की जीत की संभावनाएं -1 प्रतिशत थी।

इस बार तो हद ही कर दी...पाकिस्तान सुपर लीग में फिर उड़ा टेक्नोलॉजी का मजाक
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 01 Mar 2024 07:14 AM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान सुपर लीग एक बार फिर अपनी खराब टेक्नोलॉजी के चलते चर्चा में है। हाल ही में पीएसएल में इस्तेमाल खराब DRS के चलते इस लीग का मजाक पूरी दुनिया में उड़ा था और इस बार तो उन्होंने हदें ही पार कर दी। गुरुवार 29 फरवरी की रात को पाकिस्तान सुपर लीग 2024 का 16वां मुकाबला कराची किंग्स बनाम क्वेटा ग्लैडियेटर्स के बीच खेला गया। आखिरी ओवर में रोमांच इतना बढ़ गया था कि मैच किसी भी टीम के पक्ष में जा सकता था। ऐसे में जब विन फोरकास्ट टीवी पर आया तो फैंस अपनी हंसी नहीं रोक पाए।

IND vs ENG: इंग्लैंड की प्लेइंग XI में ये बदलाव चाहते हैं माइकल वॉन, ये तेज गेंदबाज हो बाहर

जब क्वेटा ग्लेडियेटर्स को आखिरी ओवर में जीत के लिए 2 गेंदों पर 3 रनों की दरकार थी तो उनका विन पर्सेंटेज 101 का था, वहीं कराची किंग्स की जीत की संभावनाएं -1 प्रतिशत थी। हालांकि नतीजा कुछ ऐसा ही रहा, मगर क्रिकेट के खेल में शाद ही फैंस ने कुछ इस तरह का विन फोरकास्ट देखा होगा।

IND vs ENG : सीरीज गंवाने पर भी माइकल वॉन झुकने को तैयार नहीं, इंग्लैंड को बताया भारत से बेहतर टीम

कैसा था कराची किंग्स वर्सेस क्वेटा ग्लैडियेटर्स मैच के आखिरी ओवर का रोमांच?

टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी कराची किंग्स ने निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 165 रन बोर्ड पर लगाए। उनका एक भी बल्लेबाज इस दौरान 40 रन का आंकड़ा पार नहीं कर पाया। जेम्स विंस 37 रनों के साथ उनके हाईएस्ट स्कोरर रहे। इस स्कोर का पीछा करने उतरी क्वेटा की टीम को जेसन रॉय और साउद शकील की सलामी जोड़ी ने शानदार शुरुआत देते हुए पहले विकेट के लिए 57 रन जोड़े थे। मगर इस जोड़ी के टूटने के बाद क्वेटा की टीम लड़खड़ा गई।

दिल्ली कैपिटल्स और भारत के लिए खेलना चाहते हैं ऋषभ पंत, सौरव गांगुली ने पंत के साथ हुई मीटिंग के बारे में बताया

कुछ देर में ही उनका स्कोर 57/0 से 89/5 हो गया था। ऐसे में रन बनाने का जिम्मा वेस्टइंडीज के दो सूर्माओं शेरफेन रदरफोर्ड और अकील होसेन ने उठाया। दोनों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अपनी टीम को लक्ष्य के नजदीक पहुंचाया।

आखिरी ओवर में क्वेटा की टीम को जीत के लिए 15 रनों की दरकार थी। रदरफोर्ड ने पहली दो गेंदों पर दो छक्के लगाकर मैच अपनी मुठ्ठी में कर लिया था, मगर तभी अनवर अली ने लगातार दो डॉट गेंदें डाल मैच में रोमांच का तड़का लगाया।

IND vs ENG : इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज कब्जा करने के बाद नए लुक में दिखे रोहित शर्मा, पोस्ट हुआ वायरल

इक्वेशन यह बन गई थी कि अब क्वेटा को 2 गेंदों पर 3 रन चाहिए थे। रदरफोर्ड ने ओवर की पांचवी गेंद पर थर्डमैन पर शॉट खेला और दो रन दौड़े। इस दौरान उन्होंने अपने विकेट का रिस्क भी लिया, मगर वह बच गए। इसके बाद आखिरी गेंद पर उन्होंने फाइनल लेग की दिशा में चौका लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाई और हीरो बने। रदरफोर्ड को उनकी इस पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया। वह 31 गेंदों पर 1 चौके और 6 गगनचुंबी छक्कों की मदद से 58 रन बनाकर नाबाद रहे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें