DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान ने IPL पर लगाया बैन तो पाक क्रिकेटप्रेमी तलाश रहे विकल्प

पुलवामा आतंकी हमले के बाद दोनों देशों के बीच आये राजनयिक तनाव के कारण पाकिस्तान सरकार ने देश में टीवी पर भारतीय कार्यक्रमों के प्रसारण और सिनेमाघरों में भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है। 

indian premier league 2019 pti

पाकिस्तान सरकार द्वारा आईपीएल (IPL- 2019) के प्रसारण पर रोक लगाए जाने के बाद पाकिस्तानी क्रिकेटप्रेमी इस टी-20 लीग के मैचों को देखने के विकल्प सोशल मीडिया पर तलाश रहे हैं। पाकिस्तानी खिलाड़ियों को 2008 में पहले सत्र के बाद से आईपीएल खेलने नहीं बुलाया गया है, लेकिन यहां यह लीग काफी लोकप्रिय हैं।
 
बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद दोनों देशों के बीच आये राजनयिक तनाव के कारण पाकिस्तान सरकार ने देश में टीवी पर भारतीय कार्यक्रमों के प्रसारण और सिनेमाघरों में भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है। 

IPL 2019, CSK vs RCB: धौनी ने हरभजन को थमाई गेंद और यही बना मैच का टर्निंग प्वाइंट

भारत द्वारा पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के सीधे प्रसारण पर प्रतिबंध लगाए जाने के एक महीने बाद पाकिस्तान ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के प्रसारण को बैन कर दिया है। पाकिस्तान के सूचना प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने इसकी पुष्टि की थी। यह फैसला भारत में पीएसएल के आधिकारिक प्रसारक डी स्पोर्ट द्वारा पुलवामा आतंकी हमले के मद्देनजर टूर्नामेंट का प्रसारण रोके जाने के एक महीने बाद लिया गया।

भारतीय कंपनी आईएमजी रिलायंस ने भी पीएसएल की विश्वव्यापी टीवी कवरेज संबंधी करार तोड़ दिया था, जिससे लीग को टूर्नमेंट के बीच में नई प्रोडक्शन कंपनी से करार करना पड़ा। चौधरी ने एआरवाय न्यूज से कहा था, ‘पीएसएल के दौरान जिस तरह भारतीय कंपनियों और सरकार ने पाकिस्तान क्रिकेट के साथ सलूक किया, हम यह बर्दाश्त नहीं कर सकते कि हमारे यहां आईपीएल दिखाया जाए।’ 

IPL2019, SRHvsKKR: जीत के साथ शुरुआत करना चाहेगी कोलकाता-हैदराबाद, कब-कहां-कैसे देखें मैच

उन्होंने भारतीय टीम पर भी क्रिकेट के राजनीतिकरण का आरोप लगाया। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने आईसीसी से अनुरोध किया था कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान सेना की विशेष कैप पहनने वाले भारतीय खिलाड़ियों पर कार्रवाई की जाए। हालांकि आईसीसी ने कहा कि इसकी पूर्व अनुमति ली गई थी। 

चौधरी ने कहा था, ‘हम सियासत और क्रिकेट को अलग रखते हैं लेकिन भारतीय टीम ने जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेना की कैप पहनकर खेला तो उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई।’ उन्होंने कहा, ‘आईपीएल अगर पाकिस्तान में नहीं दिखाया गया तो भारतीय क्रिकेट और आईपीएल को नुकसान होगा। हम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में महाशक्ति हैं।’ 

IPL 2019: पहले मैच में कोहली-डीविलियर्स हुए फ्लॉप, RCB ने बनाया शर्मनाक रिकॉर्ड

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:pakistan fans exploring options to watch ipl 2019 after pak government bans its telecast