फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटबाबर आजम को क्यों नहीं हटाना चाहिए कप्तानी से? मोहम्मद यूसुफ ने किया एक्सप्लेन

बाबर आजम को क्यों नहीं हटाना चाहिए कप्तानी से? मोहम्मद यूसुफ ने किया एक्सप्लेन

आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 में पाकिस्तान टीम नौ लीग मैचों में से चार ही जीत पाई और टीम सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गई। पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम पर अब तलवार लटक रही है और उनकी कप्तानी छिन सकती है।

बाबर आजम को क्यों नहीं हटाना चाहिए कप्तानी से? मोहम्मद यूसुफ ने किया एक्सप्लेन
Namita Shuklaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 14 Nov 2023 05:23 PM
ऐप पर पढ़ें

आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 में पाकिस्तान के खराब प्रदर्शन के बाद से बाबर आजम की कप्तानी पर तलवार लटकी हुई है। कई दिग्गज पूर्व क्रिकेटरों ने कहा है कि पाकिस्तान को नए कप्तान की जरूरत है और बाबर पिछले चार सालों में अपनी कप्तानी में कोई खास सुधार नहीं दिखा पाए हैं और ऐसे में अब उन्हें आगे और मौके नहीं दिए जाने चाहिए। पूर्व क्रिकेटर वसीम अकरम, शाहिद अफरीदी और सीनियर क्रिकेटर शोएब मलिक सभी ने बाबर की कप्तानी पर अंगुली उठाई है, लेकिन मोहम्मद यूसुफ का मानना है कि बाबर को फिलहाल कप्तानी पद से नहीं हटाया जाना चाहिए। मोहम्मद यूसुफ ने इसके पीछे का कारण भी बहुत अच्छे से एक्सप्लेन किया है। उन्होंने कहा कि 2007 वर्ल्ड कप जब वेस्टइंडीज में खेला गया था, तब भी पाकिस्तान टीम का प्रदर्शन खराब रहा था और इंजमाम उल हक ने कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद से पाकिस्तान को कभी भी कोई सेटल कप्तान मिला ही नहीं।

WC नॉकआउट्स में विराट के स्टैट्स डराने वाले, क्या तोड़ पाएंगे मिथक?

मोहम्मद यूसुफ ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि पाकिस्तान के सिस्टम में जिन लोगों ने सरफराज अहमद को कप्तानी से हटाया था, वही लोग बाबर को कप्तानी से हटाने की बात कर रहे हैं। बाबर आजम पाकिस्तान का शानदार बल्लेबाज है अगर ऐसा होता है, तो इससे उसकी बल्लेबाजी पर भी फर्क पड़ सकता है, जो ठीक नहीं होगा।

मोहम्मद यूसुफ ने साथ ही इंडिया, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड, न्यूजीलैंड जैसी टीमों का उदाहरण दिया, जिसमें कहा कि इन टीमों ने ज्यादा कप्तान नहीं बदले हैं पाकिस्तान के सात-आठ कप्तान बदले जा चुके हैं।

घर पर टीम इंडिया का पलड़ा रहा है भारी, जानें न्यूजीलैंड के खिलाफ हेड..

 

यूसुफ ने कहा कि सरफराज के कप्तानी रिकॉर्ड शानदार है, लेकिन उनको बैटिंग की वजह से निकाला गया। उन्हें बंद कमरे में यह समझाया जा सकता था कि वह बैटिंग सुधार लें और कप्तान बने रहें। ऐसे ही अभी ऐसा नहीं है कि बाबर के साथ कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन उसके लिए बंद कमरे में बात करके उसे उसकी गलतिया बताकर उसे सुधारने की बात होनी चाहिए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें