फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटWorld Cup 2023 : लगातार चार मैच हारने पर कैसा हो गया था पाकिस्तानी खेमे का हाल?, फखर जमां ने जीत के बाद खोले राज

World Cup 2023 : लगातार चार मैच हारने पर कैसा हो गया था पाकिस्तानी खेमे का हाल?, फखर जमां ने जीत के बाद खोले राज

विश्व कप 2023 में पाकिस्तान की टीम को लगातार चार मैचों में हार का सामना करना पड़ा था लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को खेले गए मुकाबले में पाकिस्तान ने 7 विकेट से जीत दर्ज की।

World Cup 2023 : लगातार चार मैच हारने पर कैसा हो गया था पाकिस्तानी खेमे का हाल?, फखर जमां ने जीत के बाद खोले राज
Himanshu Singhएजेंसी,कोलकाताTue, 31 Oct 2023 10:54 PM
ऐप पर पढ़ें

बांग्लादेश के खिलाफ सात विकेट की जीत से निश्चित रूप से पाकिस्तानी टीम का मनोबल बढ़ा होगा और सलामी बल्लेबाज फखर जमां ने मंगलवार को कहा कि वे सारी 'अगर-मगर' के बावजूद सेमीफाइनल में जगह बनाने पर ध्यान लगाए हैं। पाकिस्तान ने तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी की अगुआई वाले तेज गेंदबाजी आक्रमण की बदौलत बांग्लादेश को 204 रन के स्कोर पर समेटकर 32.3 ओवर में जीत हासिल कर अपने नेट रन रेट में इजाफा किया। 

जमां ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ''विश्व कप में हर जीत आपका आत्मविश्वास बढ़ाती है। हमें भी इस जीत का इंतजार था।'' उन्होंने कहा, ''हमने अपनी लय हासिल करनी शुरु कर दी है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हमने बल्लेबाजी और गेंदबााजी दोनों में वापसी की।'' जमां ने शानदार अर्धशतक जड़कर चोट के बाद वापसी की जिससे पाकिस्तान ने मंगलवार को  विश्व कप मैच में बांग्लादेश को सात विकेट से हरा दिया।

उन्होंने कहा, ''हमारा संयोजन सही बैठ रहा है। मैं आठ साल से इस ड्रेसिंग रूम का हिस्सा रहा हूं और यह और मजबूत होगा।'' जमां ने 81 रन की अर्धशतकीय पारी खेली और अब्दुल्ला शफीक (68 रन) के साथ पहले विकेट के लिए 128 रन की भागीदारी निभायी जिससे दोनों तेजी से जीत की ओर बढ़ना चाहते थे।

जमां ने कहा, ''हम इस समय जिस स्थिति में हैं, हम 29-30 ओवर में लक्ष्य का पीछा करना चाहते हैं। 'अगर-मगर' तो रहेगी लेकिन हमारा लक्ष्य सेमीफाइनल है और हम इसके लिए ही प्रयास करेंगे।''

IND vs SL : शोएब अख्तर ने भारत को दी काम की सलाह, कहा- आधे फिट हार्दिक पांड्या के आने पर बॉलर को ड्रॉप

फखर जमां घुटने की चोट के कारण पाकिस्तान के छह में से पांच मैचों में नहीं खेल पाये थे। उन्होंने मैच के बाद कहा, ''थोड़े समय बाहर रहने से मदद मिली। मैंने एशिया कप के बाद काफी अभ्यास किया। शिविर में भी अच्छा महसूस कर रहा था। मैं बड़ा स्कोर बनाना चाहता था लेकिन यह क्रिकेट है।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें