DA Image
5 जून, 2020|5:14|IST

अगली स्टोरी

खाली स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग मैच कराने का कोई मतलब नहीं: मदन लाल

आईपीएल के 13वें सीजन को लेकर तमाम तरह के सुझाव आ चुके हैं, कुछ लोगों का मानना है कि इसको थोड़ी स्थिति बेहतर होने पर खाली स्टेडियम में कराया जा सकता है, लेकिन मदद लाल इस बात से सहमत नहीं हैं।

ipl 2020

कोविड-19 महामारी (कोरोना वायरस संक्रमण) के बढ़ते खतरे के चलते इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को लेकर अभी तक कोई फैसला नहीं लिया जा सका है। आईपीएल का 13वां सीजन 15 अप्रैल तक स्थगित किया गया था, लेकिन अब मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए लगता है कि इसको और स्थगित करना ही पड़ेगा। आईपीएल के 13वें सीजन को लेकर तमाम तरह के सुझाव आ चुके हैं, कुछ लोगों का मानना है कि आईपीएल को थोड़ी स्थिति बेहतर होने के बाद खाली स्टेडियम में कराया जा सकता है, लेकिन पूर्व क्रिकेटर मदद लाल इस बात से सहमत नहीं हैं।

इंजमाम ने बताया मियांदाद को बेस्ट पाकिस्तानी बल्लेबाज, जानिए वजह

इस समय कोविड-19 महामारी के कारण जो स्थिति है उसे देखकर यह कहना मुश्किल होगा कि इस साल आईपीएल हो भी पाएगा या नहीं। मदनलाल ने कहा, 'एक बार कोरोना वायरस चला जाए तो क्रिकेट निश्चित तौर पर हो सकता है, क्योंकि यह काफी प्रसिद्ध खेल है, जिसे लगभग सभी लोग पसंद करते हैं। यहां तक की खिलाड़ी भी दर्शकों के सामने खेलना पसंद करते हैं और यह तभी हो सकता है जब स्थिति ठीक हो जाए।' मदन लाल ने साथ ही कहा कि बिना दर्शकों के आईपीएल हो इस बात का कोई मतलब नहीं है।

'सचिन-धोनी या रोहित को कभी ज्यादा वजन के साथ ट्रेनिंग करते नहीं देखा'

1983 विश्व कप जीतने वाली टीम के सदस्य रह चुके मदन लाल ने कहा, 'खाली स्टैंड रहते आईपीएल खेलने का कोई मतलब नहीं हैं। यह सिर्फ खिलाड़ियों और फैन्स की बात नहीं है यह उन लोगों की भी बात है जो प्रसारण आदि जैसे कामों के लिए सफर करते हैं।' उन्होंने कहा, 'एक बार स्थिति सुधर जाए तो बाकी सीरीजें भी हो सकती हैं और बीसीसीआई खोए हुए समय की भरपाई कर सकता है।'

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:No point in playing ipl indian premier league matches in front of empty stands says Madan lal