DA Image
9 अगस्त, 2020|4:36|IST

अगली स्टोरी

सबूतों की कमी के चलते श्रीलंका पुलिस ने बंद की 2011 वर्ल्डकप फाइनल फिक्सिंग जांच

indian cricket team players celebrate after winning the 2011 icc world cup final against sri lanka

श्रीलंकाई पुलिस ने शुक्रवार को 2011 में भारत और श्रीलंका के बीच हुए विश्व कप फाइनल की मैच-फिक्सिंग जांच को सबूतों की कमी के चलते बंद कर दिया है। उन्होंने साफ-साफ कहा है कि ऐसा कोई सबूत नहीं पाया गया है जो साबित करता हो कि श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने भारत को जिताने में मदद की थी। बता दें कि इस जांच में श्रीलंका के कई दिग्गज खिलाड़ियों से पूछताछ की गई थी। इसमें पूर्व कप्तान अरविंद डी सिल्वा, पूर्व सलामी बल्लेबाज उपुल थरंगा और 2011 में फाइनल में टीम की कप्तानी करने वाले कुमार संगकारा शाामिल हैं। 

चंड़ीगढ़ में फर्जी 'Uva टी-20 लीग' का खुलासा, स्ट्रीमिंग की जांच में जुटा BCCI

गौरतलब है कि श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामगे ने आरोप लगाए थे कि दो अप्रैल 2011 को खेला गया फाइनल फिक्स था। उन्होंने हालांकि इसके संदर्भ में कोई ठोस सबूत नहीं दिए थे। इन आरोपों की वजह से विशेष जांच समिति ने श्रीलंका के दिग्गज बल्लेबाज अरविंद डिसिल्वा और उस मैच में पारी का आगाज करने वाले उपुल थरंगा के बयान भी दर्ज किए हैं। डिसिल्वा उस समय चयन समिति के अध्यक्ष थे। जांच इकाई ने 24 जून को अलुथगामगे के बयान दर्ज किए थे जिन्होंने कहा था कि उनका शुरुआती बयान सिर्फ एक संदेह था जिसकी वह विस्तृत जांच चाहते हैं। यही नहीं जांच के मद्देनजर श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा ने गुरुवार को विशेष जांच समिति को 10 घंटे तक बयान दर्ज कराए।

टी-20 WC को लेकर टेंशन में दिखे हसी, कहा-इससे टीमों को दिक्कत होगी

बता दें कि 2 अप्रैल, 2011 को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले को भारतीय टीम ने छह विकेट से जीता था। श्रीलंका को लगातार दूसरी बार फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। उस समय टीम इंडिया के कप्तान रहे महेंद्र सिंह धोनी ने विनिंग छक्का लगाया था, जिसे आजतक याद किया जाता है। इसी के साथ भारत ने दूसरी बार विश्व कप पर कब्जा जमाया था। इससे पहले टीम ने 1983 में कपिल देव की कप्तानी में पहली बार वेस्टइंडीज को हराकर खिताब जीता था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:No evidence found Sri Lanka police calls off 2011 WC final fixing probe india vs srilanka